एक ही बार बदल सकते हैं पुराने नोट

old-notes-can-be-change-only-one
नयी दिल्ली 17 नवंबर, नोटबंदी के मद्देनजर एक ही व्यक्ति के बार बार नोट बदलने के लिए आने से बैंकों में लग रही लंबी-लंबी कतारों के मद्देनजर सरकार ने कहा है कि अब एक व्यक्ति सिर्फ एक बार ही नोट बदल सकेगा, इसके साथ ही पुराने नोट बदलने की सीमा 4,500 रुपये से घटाकर दो हजार रुपये कर दी गयी है जो शुक्रवार से प्रभावी होगी। पाँच सौ और एक हजार रुपये के प्रचलन को बंद किये गये जाने से हो रही परेशानियों के मद्देनजर सरकार ने किसानों, छोटे कारोबारियों और समूह सी तक के केन्द्रीय कर्मचारियों को राहत पहुँचाने के लिए कई निर्णय लिये हैं। इसके साथ ही जिस परिवार में शादी है उसके किसी एक सदस्य को केवाईसी का अनुपालन कर 2.5 लाख रुपये निकालने की छूट दी गयी है। आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांता दास ने सरकार के इन निर्णयों की जानकारी देते हुये यहाँ संवाददाताओं से कहा कि राज्य सरकारों सहित विभिन्न माध्यमों से मिल रहे सुझावों के आधार पर ये निर्णय लिये गये हैं। श्री दास ने कहा कि अभी बैंकों में 4,500 रुपये मूल्य तक के पुराने नोट बदलने की सुविधा दी गयी है, जिसे 18 नवंबर से घटाकर दो हजार रुपये किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ऐसी खबरे मिल रही हैं कि एक ही व्यक्ति बार-बार नोट बदलने के लिए आ रहे हैं। इसके साथ ही ऐसी भी सूचनायें मिल रही हैं कि लोग कालेधन को छुपाने के लिए संगठित समूहों की मदद से नोट बदलवा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पुराने नोट बदलने की बजाय उन्हें बैंक खातों में जमा कराने की उम्मीद की जा रही है और इसी को ध्यान में रखते हुये नोट बदलने की सीमा घटाकर दो हजार रुपये की गयी है और एक व्यक्ति एक ही बार नोट बदल सकता है। उन्होंने कहा कि रबी फसल की बुवाई के समय को ध्यान में रखते हुये किसानों को उनके कृषि ऋण तथा किसान क्रेडिट कार्ड पर सप्ताह में 25 हजार रुपये रुपये निकालने की अनुमति दी जा रही है।

 जिन किसानों ने खरीफ फसल का उत्पाद मंडियों में बेचा था वे सभी किसान अपने बैंक खाते से 25 हजार रुपये निकाल सकते हैं। इसके साथ ही कृषि उत्पाद बाजार समिति द्वारा संचालित मंडियों में पंजीकृत व्यवसायियों को साप्ताहिक 50 हजार रुपये की अनुमति होगी। फसल बीमा के प्रीमियम के भुगतान की समय सीमा 15 दिन के लिए बढा दी गयी है। उन्होंने कहा कि जिन परिवार में शादियाँ है उन परिवार से केवल एक व्यक्ति 2.5 लाख रुपये तक निकाल सकता है। इस इसके लिए पैसा निकालना सुनिश्चित करने के लिए एक स्व हस्ताक्षरित घोषणा पत्र देना होगा। उन्होंने कहा कि समूह सी के केन्द्रीय कर्मचारियाें सहित रक्षा एवं अर्द्धसैनिक बलों, रेलवे तथा सरकारी उपक्रमों के इसी स्तर के कर्मचारी नवंबर महीने के वेतन में से 10 हजार रुपये तक अग्रिम ले सकेंगे।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...