कांग्रेस ने सरकार के ई-मार्केटप्लेस पोर्टल से खरीद में घोटाले का आरोप लगाया

congress-blame-scam-in-e-marketplace-porter-purchase
नयी दिल्ली, 21 अप्रैल, सरकार के ई-मार्केट पोर्टल के जरिये की गयी खरीद में करोड़ों रूपये का घोटाला कर सरकारी खजाने को चूना लगाने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस ने आज कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को इस मामले की जांच का आदेश देना चाहिए। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आज संवाददाताओं से कहा कि यह चौंकाने वाली बात है कि इस भ्रष्टाचार एवं घोटाले का आरोप किसी और ने नहीं बल्कि भाजपा सांसदों सहित आठ सांसदों एवं भाजपा के एक केन्द्रीय मंत्री ने पत्र लिखकर लगाया है। उन्होंने कहा कि देश में सरकार और सरकारी उपक्रमों द्वारा खरीद महानिदेशक सप्लाई एवं डिस्पोजल के जरिये की जाती है। सुरजेवाला ने कहा कि आठ सांसदों एवं एक केन्द्रीय मंत्री फगन सिंह कुलस्ते ने वाणिज्य मंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखकर व्यापक घोटाले, लूट और भ्रष्टाचार की शिकायत की है। जिन सांसदों ने पत्र लिखे हैं उनमें भाजपा के अशोक नेटे, कौशल किशोर, आलोक संजर, हरीश द्विवेदी, राजेश द्विवेदी, अजरुनलाल मीणा और अजय निषाद हैं। उन्होंने कहा कि यह घोटाला सरकारी ईपोर्टल के जरिये उंची कीमतों पर सामान की खरीद कर सरकारी खजाने को नुकसान पहुंचाने का है। इसमें सरकारी अधिकारियों ने तकनीकी एवं प्रक्रियागत खामियों का लाभ उठाया और सरकारी खजाने को भारी नुकसान पहुंचाया। उन्होंने कहा कि इन सांसदों ने ईपोर्टल के जरिये खरीद में करोड़ों रूपये का घोटाले का आरोप लगाया है। इस पोर्टल में चूककर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई का कोई प्रावधान नहीं है। इन सांसदों ने उर्जा मीटर सहित विभिन्न खरीद में सरकार को चूना लगाने का आरोप लगाया है। सुरजेवाला ने कहा कि कहा कि पारदर्शिता की दुहाई देने वाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को इस मामले की पूरी जांच करा यह पता लगाना चाहिए कि इसमें कौन से अधिकारी एवं राजनीतिक लोग शामिल हैं। उन्होंने कहा कि अबकी बार यह आरोप विपक्ष ने नहीं स्वयं भाजपा के सांसदों ने लगाये हैं। इसलिए सरकार को अब तो जांच करानी चाहिए।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...