दुनिया में रत्न और आभूषण उद्योग का केंद्र बनने की ओर कदम बढाये हीरानगरी सूरत : मोदी

hiranagari-surat-modi-to-move-towards-becoming-the-center-of-gems-and-jewelery-industry-in-the-world
सूरत, 17 अप्रैल, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने हीरा उद्योगों के चलते दुनिया भर में ’हीरा नगरी’ के रूप में प्रसिद्ध अपने गृहराज्य गुजरात के सूरत शहर को अब विश्व में रत्न और आभूषण उद्योग के भी केंद्र के तौर भी स्थापित करने का आहवान किया। उन्होने यहां इच्छापुर में एक हीरा कारखाने का उद्घाटन करने के बाद अपने संबोधन में कहा, ‘देश की अब सूरत से एक अपेक्षा। डायमंड में हम डायमंड बन गये पर अब हम जेम्स एंड ज्वेलरी में दुनिया में नंबर एक होना चाहिए। हमें मात्र मेड इन इंडिया ज्वेलरी नहीं बल्कि डिजायन इंन इंडिया ज्वेलरी बनाना होगा। अपने यहां से सदियों से जो ज्वेलरी का काम हुआ है, उसमें मौसम का ध्यान रखा जाता था। बरसात में कैसेए गर्मी में कैसाए सबेरे और शाम मे कैसे अाभूषण पहने जाये। शिवजी और गणपति के लिए कैसी ज्वेलरी बने यह हम जानते थे। पहले जिस देश के लोगों ने डिजायन का ऐसा काम किया है। वह अब भी ऐसा कर सकते हैं।’ उन्होंने कहा कि सूरत अब रत्न और आभूषण उद्योग में दुनिया का केंद्र बनने का बीडा उठाये और इसके लिए केंद्र सरकार मदद करेगी। श्री मोदी ने कहा, ‘सूरत में बनी ज्वेलरी पूरी दुनिया में जाये। हम आज की परंपरा के अनुरूप बाजार में उपभोक्ता को मजबूर करने वाले लायें। आपने हीरा बहुत दिया और बहुत घिसा, अब ज्वेलरी की दिशा में आगे बढिये। पूरे देश का नेतृत्व सूरत करे। पूरी दुनिया में अपनी ताकत बढाये।’ इससे पहले श्री मोदी ने अपने संबोधन में देश के पहे गुजराती मूल के प्रधानमंत्री मोरारजी देसाई और देश के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल को भी याद किया।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...