विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 19 अप्रैल

ग्रामों को प्राप्त होने वाले बजट के अनुरूप कार्ययोजना बनाएं : कलेक्टर

vidisha news
कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने मंगलवार की सायंकाल कुरवाई विकासखण्ड के ग्राम माला, फतेहपुर एवं काछी कुम्हारिया में आयोजित ग्राम संसद की कार्यवाही में शामिल होकर ग्रामोदय से भारत उदय अभियान के तहत ग्राम पंचायतों में अद्योसंरचनाओं के तहत कराए जाने वाले कार्यो, हितग्राहीमूलक योजनाओं से लाभांवित करने तथा ग्रामीणजनों के प्राप्त आवेदन पत्रों का जायजा लिया। इस दौरान ग्रामीणजनों से रू-ब-रू होकर ग्रामोदय से भारत उदय अभियान की मंशा को उन्होंने रेखंाकित किया। माध्यमिक शाला माला के प्रागंण में आयोजित कार्यक्रम में कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि आगामी दो वर्षो के लिए कार्ययोजना बनाई जानी है। जिसमें इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि ग्राम पंचायत को विभिन्न मदों के तहत कुल कितना बजट मिलता है। ग्रामीणांेें ने बताया कि नलजल योजना विगत दो माह से बंद है। ग्राम में अब तक 241 शौचालय बनाए जा चुके हैै। प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वरोजगार योजनाओं, के अलावा मुद्रा बैंक योजना, विभिन्न प्रकार की पेंशन से लाभांवित होेने वाले हितग्राहियों से संवाद किया वही ग्रामीणजनों द्वारा दिए गए सुझावों को पंजीबद्व किया गया। ग्राम की निःशक्त राजकुमारी को निःशक्तता पेंशन शीघ्र देने के निर्देश दिए है। ग्राम फतेहपुर में गतवर्ष बारिश से मकान गिरने पर पीड़ितों को अब तक राहत राशि नही मिलने पर कलेक्टर ने असंतोष जाहिर करते हुए एसडीएम को निर्देश दिए कि प्रकरणों की शीघ्र जांच करें और दोषियों के खिलाफ कार्यवाही प्रस्तावित करें। उन्होंने पीड़ितों से कहा कि सात दिवस के भीतर राहत राशि आपके बैंक खातों में जमा करा दी जाएगी। ग्रामीणों ने बताया कि विगत छह माह से बिजली आपूर्ति बंद है। ऊर्जा विभाग के अधिकारी ने बताया कि गांव से 13 लाख रूपए वसूली की जानी है। कलेक्टर श्री सुचारी ने ग्रामीणों से कहा कि वे बिजली बिल जरूर भरें ताकि गांव में बिजली की आपूर्ति सतत बनी रहें। उन्होंने ऊर्जा विभाग के बिल देयकों में योजना के अंतर्गत दी जा रही सहूलियतों का शीघ्र लाभ लेने की बात ग्रामीणजनों को समर्झाईं। कलेक्टर श्री सुचारी को ग्राम काछी कुम्हारिया में स्कूल और आंगनबाडी केन्द्र के लिए अलग-अलग स्वसहायता समूह द्वारा भोजन तैयार किया जा रहा है आंगनबाडी केन्द्र के लिए प्रदाय कर रहे स्वसहायता समूह की महिलाओं ने बताया कि स्कूल में मध्यान्ह भोजन तैयार करने वाले स्वसहायता समूह के सदस्यों द्वारा छूआछूत का बरताव अपनाया जाता है वही गैस चूल्हे पर खाना बनाने से मना किया जाता है। कलेक्टर श्री सुचारी ने उक्त शिकायत को गंभीरता से लेते हुए कुरवाई एसडीएम को तीन दिवस के भीतर जांच पड़ताल करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जांच में यदि मध्यान्ह भोजन तैयार करने वाले स्वसहायता समूह की गलतियां पाई जाती है तो समूह को निरस्त करने की कार्यवाही की जाए। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि 29 अपै्रल को कुरवाई में मुख्यमंत्री कन्या/निकाह योजना के तहत वैवाहिक कार्यक्र्रमों का आयोजन किया गया है। अतः क्षेत्र की ऐसी कन्याएं जिनका विवाह होना है उनके परिवारजनों तक यह संदेश पहुंचाया जाए कि वे सामूहिक वैवाहिक कार्यक्रम में पंजीयन कराएं ताकि उन्हें योजना का लाभ मिल सकें। ग्राम काछी कुम्हारिया की माध्यमिक शाला की बाउण्ड्रीबाल निर्माण हेतु शिक्षा विभाग के माध्यम से राशि उपलब्ध कराने का आश्वासन जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा दिया गया। उन्होंने ग्राम पंचायत से बाउण्ड्रीवाल निर्माण का ठहराव प्रस्ताव शीघ्र ही जिला कार्यालय को उपलब्ध कराने की बात कही। इस अवसर पर कुरवाई एसडीएम श्री संदीप आष्ठाना, जिला शिक्षा अधिकारी श्री एचएन नेमा, जनपद सीईओ श्री विजय श्रीवास्तव, नायब तहसीलदार श्री ताम्रकार साथ मौजूद थे। 


शत प्रतिशत टीकाकरण हमारा नैतिक दायित्व-कलेक्टर

जिला स्तरीय मिशन इन्द्रधनुष की समीक्षा आज कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने आज की। कलेक्टेªट के सभाकक्ष में हुई इस बैठक में अभियान के तहत अब तक हुए टीकाकरण कार्यो की प्राथमिक उप स्वास्थ्य केन्द्रवार समीक्षा की गई। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि जिले में शत प्रतिशत टीकाकरण कराना हमारा नैतिक दायित्व है। उन्होंने अभियान में विदिशा जिला बार-बार शामिल होने पर खेद जाहिर करते हुए कहा कि टीकाकरण जैसे महत्वपूर्ण कार्य को क्रियान्वित करने वालों के द्वारा ईमानदारी पूर्ण कार्य नही किए जा रहे है। यह परलिक्षित होता है। उन्होंने कठोर लहजे में चेतावनी देते हुए कहा कि अब यदि टीकाकरण में कही भी त्रुटियां पाई जाती है तो संबंधितों के साथ-साथ बीएमओ भी दण्ड के भागीदारी होगे। उन्होंने एमआई डाटा अपडेट नही करने पर भी असंतोष जाहिर किया। कलेक्टर श्री सुचारी ने समस्त एसडीएमों को निर्देश दिए कि टीकाकरण जैसे महत्वपूर्ण कार्य की क्रास मानिटरिंग अपने संसाधनों के माध्यम से करें। उन्होंने बीएमओ से कहा कि वे हर रोज समीक्षा कर प्रगति से स्थानीय एसडीएम को अवगत कराएं। टीकाकरण कार्य के लिए प्रत्येक आशा कार्यकर्ता को एक सौ रूपए मानदेय दिया जा रहा है। उनके कार्यो का सुपरविजन अनिवार्यतः हो। ऐसी आशा कार्यकताएं जिनके द्वारा कार्यो में कोताही बरती जा रही है उनकी सेवाएं समाप्ति के कार्य अविलम्ब हो। कलेक्टर श्री सुचारी ने टीकाकरण जैसे अभियान का व्यापक प्रचार-प्रसार करने पर बल देते हुए कहा कि हर माता अपने बच्चों को टीका लगवाना चाहती है बस उसें जानकारी हो कि टीका लगाने के फायदे क्या है। ग्रामीण अमला के द्वारा प्रचार-प्रसार में रूचि नही ली जा रही है यह बात अभियान तिथियों में प्रदर्शित हो रही है। बूथ पर टीकाकरण से वंचित बच्चों के घरों में पहुंचकर उनका टीकाकरण करना है। उक्त कार्य में विशेष रूचि लेने के निर्देश उन्होंने दिए।कलेक्टर श्री सुचारी ने स्थानीय अमले को बेहतर प्रशिक्षित करने के लिए जिला मुख्यालय और खण्ड मुख्यालय पर उन्हें प्रशिक्षण आयोजित करने के निर्देश दिए। इसके लिए उनके द्वारा इस माह की 23 और 25 तारीख तय की गई है।  कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि संयुक्त प्रयासों से हम शत प्रतिशत टीकाकरण कर मिशन इन्द्रधनुष ग्रुप से विदिशा जिला बाहर निकल सकता है। ऐसे पुख्ता प्रबंध आगामी अभियान के पूर्व सुनिश्चित किए जाए। बैठक में विगत चरण का फीडबैक, सुधारात्मक गतिविधियां, मिशन के तहत जिन क्षेत्रों में सत्र आयोजित किए जाने है उनमें मुख्यतः रिक्त उप स्वास्थ्य केन्द्र, उच्च जोखिम क्षेत्र विगत दो माह से जहां नियमित टीकाकरण नही हुआ है। मीजल्स आउट ब्रेकवाला क्षेत्र इत्यादि प्रमुख है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ बीएल आर्य ने बताया कि अभियान को जिले में चुनावी तर्ज पर क्रियान्वित किया जा रहा है ताकि जिला मिशन इन्द्रधनुष की सूची से पृथक हो सकेें। अभियान अवधि के दौरान सम्पादित किए गए कार्यो की रूपरेखा से भी उन्होंने अवगत कराया। बैठक में अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा समेत समस्त एसडीएम, तहसीलदार, डब्ल्यूएचओ के प्रतिनिधि डाॅ एनएस रजावत, जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ प्रमोद मिश्रा के अलावा समस्त बीएमओ, सुपरवाईजर और अन्य चिकित्सकगण मौजूद थे।

मतदाता जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाई

vidisha news
जिले के मतदाताओं को जागरूक करने के लिए विशेष रथ के माध्यम से प्रचार प्रसार जिले में किया जा रहा है। कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने आज कलेक्टेªट प्रागंण में हरी झंडी दिखाकर रथ को रवाना किया। इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री चन्द्रप्रताप गोहल भी मौजूद थे। 

कार्यो की समीक्षा
कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने आज राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा निकायों एवं पंचायतों के लिए जारी फोटोयुक्त मतदाता सूची का पुनरीक्षण कार्यक्रम की समीक्षा की। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि प्रत्येक पंचायतों में फ्लैक्स के माध्यम से प्रचार-प्रसार किया जाए। आॅन लाइन वोटर रजिस्टेªशन प्रक्रिया से भी अवगत कराया जाए। इसके लिए प्रत्येक काॅलेज, स्कूल, सीएससी केन्द्रों पर एक-एक बूथ बनाए जाएं। ताकि नवीन मतदाता सुगमता से अपना नाम मतदाता सूची में दर्ज करा सकें। उन्होंने काॅलेजों में केम्पियनिंग के लिए एम्बेसडर नियुक्त किए जाएं साथ ही ईव्हीएम का भी प्रदर्शन किया जाए। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि मतदाता सूची अभियान की जानकारी ग्रामोदय से भारत उदय अभियान में भी दी जाए और ऐसे मतदाता जो अब तक अपना नाम नही जुडवा पाए है खासकर महिला मतदाताओं के नाम सर्वोच्च प्राथमिकता से जोड़ने की कार्यवाही की जाए। ताकि जिले में जेण्डर रेशों क अनुपात का कम किया जा सकें। बैठक में निकायवार, मतदान केन्द्रवार जेण्डर रेशांे को बढावा देने के लिए स्थानीय स्तर पर कार्ययोजना तैयार कर उसें क्रियान्वित करने के निर्देश दिए गए। बैठक में बताया गया कि जीआईएस के तहत प्रत्येक मतदान केन्द्र की मेपिंग की जानी है। मतदान केन्द्र के उपरांत निकायवार मेपिंग कार्य किया जाएगा।

कलेक्टर द्वारा राजस्व कार्यो का जायजा

कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने आज राजस्व अधिकारियों की बैठक आहूत कर उनके द्वारा सम्पादित कराए जाने वाले कार्यो की बिन्दुवार समीक्षा की। कलेेक्टेªट के सभाकक्ष में हुई इस बैठक अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा के अलावा समस्त एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार और एसएलआर मौजूद थे। कलेक्टर श्री सुचारी ने राजस्व अधिकारियोें से कहा कि वे कार्य क्षेत्रों में हितग्राहीमूलक योजनाओं के क्रियान्वयन पर भी विशेष नजर रखें। उन्होंने कहा कि आप सब आमजनों की मदद के लिए पदस्थ है। इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि आमजन अपने छोटे-छोटे सार्थक कार्यो के लिए भटके ना। उनके कार्य समय सीमा में हो का ध्यान दिया जाए।कलेक्टर श्री सुचारी ने अनुविभाग स्तर पर लंबित मुख्यमंत्री हेल्प लाइन के आवेदन की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि ऐसे प्रकरण जो एल-4 स्तर पर आ गए है उन प्रकरणों में संबंधित निचले स्तर के अधिकारियोें के द्वारा जबाव क्यों नही प्रस्तुत किए गए है। उन सभी से स्पष्टीकरण लिया जाए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री हेल्प लाइन में दर्ज होने वाले प्रकरण अतिमहत्पूर्ण होते है अतः इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि वे समय सीमा में निराकृत हो। उन्होंने कहा कि राजस्व अधिकारी हर रोज अपने पासवर्ड से मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के आवेदनों की जांच पड़ताल स्वंय करें और आवेदककर्ता से उसी दिन फोन पर सम्पर्क कर आवेदनकर्ता की मंशा को जाने।कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि जिले के अधिकांश क्षेत्रों में फसलों की कटाई हो चुकी है अतः राजस्व वसूली, डायवर्सन प्रीमियम की वसूली हेतु विशेष प्रयास करें। बैठक में अब तक विभिन्न करों के तहत की गई वसूली की बिन्दुवार समीक्षा की गई। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि अपै्रल माह तक वसूली के एक भी प्रकरण लंबित ना रहें। उन्होंने राजस्व न्यायालयों में अवधिवार प्रचलित प्रकरणों की भी समीक्षा की।


टीकाकरण में लापरवाही बरतने वालोें पर कार्यवाही

मिशन इन्द्रधनुष कार्यक्रम का प्रथम चरण सात अपै्रल से 15 अपै्रल के मध्य क्रियान्वित किया गया था। उक्त अभियान तिथि के दौरान टीकाकरण कार्य में लापरवाही बरतने पर उनके खिलाफ मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ बीएल आर्य के द्वारा कार्यवाही की गई है। जारी आदेश में उल्लेख है कि माॅनिटरिंग के दौरान अनियमितताएं पाए जाने पर जिला स्तर पर 34 अधिकारी, कर्मचारियों को चेतावनी पत्र जारी किए गए है। पांच आशा कार्यकर्ताओं को हटाने के आदेश खण्ड चिकित्सा अधिकारियों को दिए गए है। 13 कर्मचारियों की वेतन वृद्वि रोकी गई है उनमें सरदार सिंह रघुवंशी, किरण कानूनगो, उमा शुक्ला, अनिल खरे, हेमलता जैन, सुखलाल सहरिया, किरण पांचाल, भजन लाल राठौर, सविता श्रीवास्तव, बीएल कुमार, अनिता जाटव, ओपी वर्मा और मुकेश जैन शामिल है। इसके अलावा चार कर्मचारियों का वेतन काटा गया है उनमें ज्योति चंदेल, मीना खपरिया, कृष्णा अहिरवार और हेमलता सूर्यवंशी शामिल है। इसी तारतम्य में चार विकासखण्ड चिकित्सा अधिकारियों की दो-दो वेतन वृद्वि रोेकने का प्रस्ताव स्वास्थ्य आयुक्त को प्रेषित किया गया है। जिन बीएमओ की वेतन वृद्वि रोकने की कार्यवाही प्रस्तावित है उनमें डाक्टर एके श्रीवास्तव, डाॅ विवेक अग्रवाल, डाॅ प्रदीप मंगल, डाॅ वैभव मोदी शामिल है।

सिविल सर्विस डे पर कार्यशाला

भारत सरकार के निर्देशानुसार हर वर्ष 20 एवं 21 अपै्रल को सिविल सर्विस डे मनाया जाता है इस अवसर पर 20 अपै्रल की प्रातः 11 बजे से कलेक्टेªट सभाकक्ष मंेे एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया है। कार्यशाला में जन संरक्षण, स्वच्छ ऊर्जा की बडी उपयोगिता, पौधरोपण, स्वरोजगार में युवााओं की सहभागिता, ग्रामोदय से भारत उदय अभियान, नदी संरक्षण एवं सफाई, आनंद विभाग, सीसीटीव्ही की उपयोगिता सहित अन्य विषयों पर चर्चा की जाएगी। सिविल सर्विस डे के दूसरे दिन अर्थात 21 अपै्रल की प्रातः11 बजे से प्रधानमंत्री का उद्बोधन एनआईसी के वीडियो कांफ्रेसिंग हाल में लाइव प्रसारण किया जाएगा। कलेक्टर ने जिलाधिकारियों से कहा कि वे समय पर उपस्थित होना सुनिश्चित करें।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...