एशिया का सबसे लंबा पुल भूपेन हजारिका के नाम पर

asia-s-longest-bridge-named-after-bhupen-hazarika
गुवाहाटी, 26 मई, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने असम में ब्रह्मपुत्र नदी पर बने धौला-सादिया पुल को आज राष्ट्र को समर्पित किया और एशिया के इस सबसे लम्बे पुल का नाम महान संगीतकार भूपेन हजारिका के नाम पर रखने की घोषणा की। श्री मोदी ने 9.15 किलोमीटर लम्बे पुल काे राष्ट्र को समर्पित करते हुए कहा कि सरकार ने इस पुल का नाम धरती पुत्र और महान गायक भूपेन हजारिका के नाम पर रखने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि श्री हजारिका ने संगीत के माध्यम से ब्रह्मपुत्र की ख्याति को दुनिया भर में पहुंचाया था। लगभग 2050 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित यह पुल असम और अरुणाचल प्रदेश को जोड़ेगा और इससे दोनों राज्यों के लोगों के आवागमन में समय की काफी बचत होगी तथा प्रतिदिन 10 लाख रुपये का ईंधन बचेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस पुल की परिकल्पना अटल बिहारी वाजयेपी सरकार के कार्यकाल के दौरान की गयी थी लेकिन इस पर काम 2011 से शुरू हो पाया। श्री मोदी, सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित, मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल तथा कुछ प्रमुख लोगों ने पुल पर कुछ देर के लिए चहल कदमी की और फोटो भी खिंचवाये।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...