मधुबनी : उद्घाटन से पहले दरकने लगी सड़क ।

निर्माण एजेंसी के खिलाफ आबाज उठने लगे है, 

brecking-road-madhubani
मधुबनी/अंधरा ठाढ़ी (मोo आलम अंसारी), प्रखंड मुख्यालय से झंझारपुर जाने बाली  मुख्य सड़क है।  दो दिन पूर्व झंझारपुर सासद ने  इसका उद्घघाटन किया था।  इस सडक की लम्बाई मात्र 16 किलोमीटर है।   प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना से 9 करोड़ 41 लाख रूपये की लागत से बनी है।इसका  कार्यकारी एजेंसी आर डब्लू डी झंझारपुर था। सड़क निर्माण में प्राक्कलन के अनदेखी करने का आरोप लगते रहे हैं। लोगो का कहना है की निर्माण एजेसी गुणवत्तावका खयाल नही रखा। निधारित मात्र से कम मेटल देकर निर्माण किया गया है। इस सडक में कमला नदी के पूर्वी तटबंध पर हो कर सडक गुजरती है। सरना भदुआर में कई जगहो पर सड़क टुटने लगा है। रैन कट बनने लगा है। आमलोगो की बात सुने तो उनका कहना है कि झंझारपुर सांसद  को उदघाटन से पूर्व सड़क की गुणवत्ता को   मुआईना कर लेना चाहिए। दीगर वात है  सड़क की गुणवत्ता  को लेकर स्थानीय लोगो ने  शिकायती आवेदन भी दिया था। कईबार जगह-जगह ग्रामीणों द्वारा सड़क निर्माण के समय आन्दोलन व सड़क जाम भी किया  था।  विभाग ने सडक निर्माण में  गुणवत्ता का पुरा ध्यान रखने का भरोसा दिलाया था। हरना गांव निवासी के अभ्यावेदन पर ग्रामीण कार्य विभाग पटना के विशेष कार्य पदाधिकारी ने अपर मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी सह सचिव संजय कुमार को एस क्यू एम से जांच करवा कर प्रतिवेदन समर्पित करने को कहा गया था।  आवेदन कर्ता ने ग्रामीण कार्य विभाग के अधिकारीयों को इस संम्बंध में आवेदन देकर संबेदक पर घटिया निर्माण करने का आरोप लगाया था।  इस बात को लेकर निर्माण एजेंसी  ने आवेदक को सरकारी कार्य में बाधा डालने  आरोप में जेल भेजवाने की धमकी तक दिया था । आवेदक का कहना है कि उक्त सड़क के मध्य में हरना और भदुआर के बीच दो किलो मीटर के दायरे में नियम के विपरीत सड़क निर्माण किया गया है।  सडक के दुसरे हिस्से से अधिक मजबूत सडक बननी चाहिए थी। जबकि इसी मुख्य बिंदु पर सडक कमजोर है। कहते है अधिकारी सहायक अभियंता आर डी डव्लू झंजरपुर ने पूछने पर बताया की सभी बिन्दुओ पर जाँच पूरी कर ली गयी है। कार्य में गुणवत्ता का पूर्ण खयाल रखा गया है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...