भाकपा के पूर्व राज्य सचिव और वरिष्ठ कम्युनष्टि नेता बद्री नारायण लाल के निधन पर भाकपा-माले ने जताया शोक.

cpi-ml-condolance-to-badri-narayan-lal
पटना 21 मई, भाकपा-माले के राज्य सचिव कुणाल ने भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के पूर्व राज्य सचिव व वरिष्ठ कम्युनिस्ट नेता बद्री नारायण लाल के निधन पर पार्टी परिवार की ओर से गहरा शोक व्यक्त किया है. उन्होंने भाकपा नेता के परिजनों के प्रति भी शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि दुख की घड़ी में हम सब साथ हैं. माले राज्य सचिव ने कहा कि काॅ. बद्री बाबू बिहार के वरिष्ठतम कम्युनिस्ट नेताओं में थे और काफी अनुभवसंपन्न थे. वे ऐसे मौके पर हमसे बिछड़ गये, जब देश में फासीवाद की ताकतें लगातार अपना सर उठा रही हैं और देश में लोकतंत्र व गंगा-जमुनी तहजीब को खत्म कर फासीवादी थोपने का प्रयास कर रही है. भाजपा के सांप्रदायिक उन्माद के उभार के इस दौर में हमें बद्री बाबू जैसे तपे-तपाये और जनता के आंदोलनों से निकले नेता की बेहत जरूरत थी. उनकी मृत्यु से वामपंथी आंदोलन को गहरा नुकसान हुआ है. उन्होंने कहा कि भाजपा के सांप्रदायिक उन्माद को वामपंथी ताकतों की एकजुटता ही मुकम्मल जबाव दे सकती है. यही बद्री बाबू को सच्ची श्रद्धांजलि होगी.

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...