एडीबी में विकासशील देशों की राय को मिले तरजीह : जेटली

developing-nation-must-get-seat-in-abd-jetely
योकोहामा, जापान 07 मई, वित्त मंत्री अरुण जेटली ने एशियाई विकास बैंक (एडीबी) के अध्यक्ष ताकेहिको नकाओ से मुलाकात करके एडीबी के कामकाज में विकासशील देशों की राय को तरजीह देने की आज माँग की। एडीबी के संचालन मंडल की 50वीं वार्षिक बैठक में हिस्सा लेने के लिए तीन दिन की यात्रा पर यहाँ आये श्री जेटली ने भारत-एडीबी संबंधों पर द्विपक्षीय चर्चा के दौरान श्री नकाओ के सामाने यह माँग रखी। उन्होंने एडीबी से भारत को सबसे ज्यादा ऋण दिये जाने पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि एडीबी विकासशील सदस्य देशों को सेवाएँ देता है और इसलिए उसे यह सुनिश्चित करना चाहिये कि उसके परिचालन और संसाधन नियोजन में उनकी राय को तरजीह दी जानी चाहिये। इससे पहले श्री जेटली ने जापान के वित्त मंत्री तारो आसो से भी द्विपक्षीय बातचीत की। उन्होंने श्री आसो को मेक इन इंडिया के तहत भारत द्वारा की गयी पहलों को रेखांकित किया और जापानी कंपनियों से वहाँ मेट्रो रेल परियोजनाओं के लिए चल परिसंपत्तियों की विनिर्माण इकाइयाँ स्थापित करने का आह्वान किया। दोनों नेताओं ने भारत और जापान के बीच बढ़ते सामंजस्य की चर्चा करते हुये द्विपक्षीय आर्थिक सहयोग और बढ़ने की दिशा में मिलकर काम करने की प्रतिबद्धता जतायी।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...