हरियाणा की बेटी अनीता कुंडू ने फतह किया एवरेस्ट

hriyana-girl-anita-kundu-on-evrest
हिसार, 21 मई, हरियाणा के हिसार जिले के फरीदपुर गांव की बेटी अनीता कुंडू ने चीन के रास्ते से चढ़ाई करते हुए रविवार सुबह विश्व की सबसे ऊंची चोटी एवरेस्ट फतह करके नया इतिहास रच दिया। अनीता कुंडू ने सुबह 7.15 मिनट पर जैसे ही एवरेस्ट की 29029 फुट ऊंची चोटी पर तिरंगा फहराया तो वह ऐसा करने वाली देश की पहली महिला पर्वतारोही बन गई जिसने चीन के रास्ते से एवरेस्ट पर फतह पाई है। इतना ही नहीं नेपाल और चीन दोनों ओर से एवरेस्ट फतह करने वाली वह देश की पहली पर्वतारोही बन गई हैं। अनीता ने नेपाल के रास्ते से 28 अप्रैल 2013 को एवरेस्ट की सबसे ऊंची चोटी पर तिरंगा फहराया था। अनीता ने माइनस 60 डिग्री सेल्सियस तापमान, ऑक्सीजन की भारी कमी और तूफानों की भी परवाह किये बगैर 42 दिन की संघर्ष भरी चढ़ाई के बाद आखिरकार एवरेस्ट पर फतह हासिल कर ली। उन्होंने नौ अप्रैल से चढ़ाई शुरू की थी। वह 26 अप्रैल को 22000 फुट ऊंचाई पर स्थित एडवांस बेस कैंप पर पहुंच गई थी। वहां पहुंचने के बाद उन्हें बड़े तूफान का सामना करना पड़ा और अगले सात दिनों तक उसका संपर्क उसकी प्रायोजक कंपनी से टूटा रहा था। संपर्क टूटने की खबर पाकर परिजन तथा क्षेत्र के लोगों में चिंता की लहर फैल गई थी और उसकी सलामती के लिए दुआ, प्रार्थना और हवन के कार्यक्रम हुए। आठ दिन बाद उसका संपर्क अपनी प्रायोजक कंपनी से हुआ। इसके बाद भी दो दिनों तक वे आगे नहीं बढ़ पाई थी क्योंकि मौसम खराब बना हुआ था। कठिन चढ़ाई को पार करने के बाद उसके कदमों ने और ज्यादा रफ्तार पकड़ ली तथा अपने लक्ष्य की ओर बढ़ती गई। गांववासियों के साथ-साथ क्षेत्र के अनेक गणमान्य लोग भी बधाई देने के लिए उसके घर पर पहुंचे। इस मौके पर अनीता की मां राजपति देवी ने ग्रामीणों के साथ अपनी खुशियां साझा की।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...