भारत तमिलों के सामाजिक-आर्थिक विकास के लिए श्रीलंका के प्रयासों का समर्थन करेगा: मोदी

india-will-support-lanka-s-efforts-towards-socio-economic-development-of-tamils-pm
डिक्कोया (श्रीलंका) 12 मई, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि श्रीलंका सरकार द्वारा देश में तमिल समुदाय के सामाजिक आर्थिक विकास की दिशा में प्रयासों का भारत सरकार समर्थन करेगी। श्री मोदी ने यहां भारतीय मूल के तमिलों को संबाेधित करते हुए भारत के साथ अपने संबंधों को बरकरार रखने के लिए श्रीलंकाई तमिलों के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा “मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि भारत आपके सामाजिक-आर्थिक विकास के लिए श्रीलंका सरकार के प्रयासों का समर्थन करेगा।” प्रधानमंत्री ने यहां सुपर-स्पेशलिटी अस्पताल का उद्घाटन करने के बाद कहा “मुझे जानकारी है कि श्रीलंका सरकार आपकी जीवन स्थितियों को बेहतर बनाने के लिए सक्रिय कदम उठा रही है जिसमें पांच वर्षीय एक राष्ट्रीय कार्ययोजना भी है। मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि भारत सामाजिक-आर्थिक विकास के प्रति श्रीलंका सरकार के प्रयासों का समर्थन करेगा।” श्रीलंकाई तमिलों के साथ संबंध बनाए रखने पर जोर देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा “दुनिया भर के लोग प्रसिद्ध सिलोन चाय से भलीभांति परिचित हैं जो इस उपजाऊ भूमि में पैदा होती है। यदि श्रीलंका आज विश्व में चाय का तीसरा सबसे बड़ा निर्यातक है, तो यह उसके परिश्रम का फल है। आप जानते हैं कि आप और मुझमें कुछ समानता है आैर यह चाय के साथ हमारे विशेष संबंध की वजह से है।” तमिल समुदाय के साथ संबंधों का जिक्र करते हुए श्री मोदी ने प्रधानमंत्री ने तमिल हस्तियों एमजी रामचंद्रन और क्रिकेटर मुथैया मुरलीधरन जिक्र भी किया । उन्होंने कहा पूराथ्ची थालाईवर एमजीआर इसी मिट्टी में पैदा हुए थे और जीवन भर उनका श्रीलंका की धरती से संबंध रहा। दुनिया के बेहतरीन स्पिनरों में से एक मुथैया मुरलीधरन भी इसी धरती से है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...