नवाचारों का लाभ आम जनता तक पहुंचे

innovations-benefits-general-public
जयपुर 28 मई, राजस्थान के उद्योग मंत्री राजपाल सिंह शेखावत ने उत्पादकों से नवाचारों को अपनाने का आह्वान करते हुए कहा कि इसका लाभ आम जनता तक पहुंचाने में वह अपना सक्रिय योगदान दें। श्री शेखावत ने आज यहां राजस्थान स्टेट प्रोडक्टीविटी काउंसिल की ओर से आयोजित उत्पादकता अवार्ड समारोह में कहा कि तकनीकी में लगातार हो रहे बदलाव के कारण उत्पादकों को बेहतर अवसर आसानी से उपलब्ध हो रहे है। उन्होंने कहा कि प्रतिस्पर्धा के दौर में उत्पादकों को अपनी गुणवता में बगैर किसी का समझौता किये कम लागत में उत्पाद तैयार करना होगा। उन्होंने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार मिलकर कार्य करें तो आगामी 2025 तक देश का सकल घरेलु उत्पाद (जीडीपी) 35 प्रतिशत तक पहुंच सकता है और देश में 90 बिलियन रोजगार के अवसर बढने की संभावना है। उन्होंने कहा कि देश में 1985 के दौर में कोटा राज चलता था। इसके बाद आये तकनीकी और इलेक्ट्रिक युग से हर क्षेत्र में बदलाव आया है और वर्तमान डिजिटल लाईजेशन युग में इसकी संभावना और बढ गयी है। उन्होंने देश में लागू हो रहे जीएसटी का जिक्र करते हुए कहा कि देश में आर्थिक क्रांति लाने में यह प्रणाली अत्यंत लाभकारी सिद्ध होगी अौर इससे उद्याोगपतियों को विशेष लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि विश्व में भारत एक युवा देश है जिसके कारण यहां उत्पाद में कुशलता बढाना आसान है। इस अवसर पर उन्होंने सीमेंट उद्योग, टेक्सटाईल्स , टायर निर्माता , फर्नीचर एवं श्रम क्षेत्रों में श्रेष्ठ योगदान करने वाले दस उद्योगपतियों को पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया। प्रारंभ में काउंसिल के अध्यक्ष के एल जैन ने कहा कि उद्योगपतियों को प्रोत्साहन देने के लिये ही उत्पादकता पुरस्कार का प्रावधान किया गया है । उन्होंने देश में जीएसटी की दरों का वर्गीकरण करने के कारण राजस्थान के कुछ उद्योगों की दरों के निर्धारण पर पुर्नसमीक्षा किये जाने का भी आग्रह किया। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...