सोशल मीडिया पर आईएस में शामिल हाेने वाले संदेश की एनआईए ने शुरू की जांच

investigation-on-social-media-for-is-invitation
कासरगोड (केरल),07 मई, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने जेहाद के रास्ते पर चलने के लिए इस्लामिक स्टेट की विचारधारा अपनाने के लोगों से अनुरोध करने वाले संदेश सोशल मीडिया पर प्रसारित होने के बाद इस मामले की जांच शुरू कर दी है। सूत्रों ने आज बताया कि यह जांच कासरगोड निवासी हारिस मस्तान की शिकायत पर शुरू की गयी है। उसने सूचना दी कि उसे व्हाट्सऐप पर एक संदेश मिला जिसमें कहा गया था कि उसे ‘मैसेज टू केरल’ नामक ग्रुप से जाेड़ा गया है। विस्तृत जांच-पड़ताल के बाद पाया गया कि यह संदेश कासरगोड निवासी राशिद अब्दुल्ला द्वारा भेजा गया था जो राज्य के लापता 21 लोगों में से एक है। ऐसा माना जाता है कि वह आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट में शामिल हो गया है। जांच एजेंसी अधिकारी का मानना है कि सोशल मीडिया का यह ग्रुप अफगानिस्तान में बनाया गया था और यह पलक्कड़ निवासी अबू इसा द्वारा संचालित किया गया जो लापता है। जांच अधिकारी ने ग्रुप के कुछ सदस्यों से पूछताछ भी की है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...