मन की बात सुनाने वाले मोदी अब सुनेंगे जन की बात

modi-now-will-listen-to-commoners
नयी दिल्ली 22 मई, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश को तीन साल तक ‘मन की बात’ सुनाने के बाद अब ‘जन की बात’ सुनेंगे, केन्द्र में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की सरकार के तीन साल पूरे होने के अवसर पर देश के करीब 900 स्थानों पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)26 मई से 15 जून के बीच देश के नौ सौ से अधिक स्थानों पर मेकिंग आॅफ डेवेलप्ड इंडिया फेस्टिवल (मोदी फेस्ट) का आयोजन करने जा रही है। केन्द्रीय मंत्री एवं भाजपा की वरिष्ठ नेता स्मृति ईरानी और भाजपा महासचिव अरुण सिंह ने आज यहां एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि जनता के ऐतिहासिक आशीर्वाद से सत्ता में आने के तीन साल पूरे होने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, केन्द्रीय मंत्री, राजग के शासन वाले राज्यों के मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, मंत्री, सांसद, विधायक एवं पार्षद तथा संगठन के प्रदेश एवं राष्ट्रीय पदाधिकारी देश के सभी नागरिकाें से समन्वय एवं संवाद कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। श्रीमती ईरानी ने बताया कि सरकारी कार्यक्रम की शुरुआत गुवाहाटी में होगी जहां पहला कार्यक्रम ‘मेकिंग ऑफ डेवेलप्ड इंडिया फेस्टिवल’ यानी मोदी फेस्ट होगा जिसमें नागरिकाें विशेषकर युवाओं को तीन साल में सरकार द्वारा शुरू की गयी योजनाओं की जानकारी दी जायेगी। इन योजनाओं की जानकारी लोगों के मोबाइल फोन में डाउनलोड करने की सुविधा भी उपलब्ध करायी जायेगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की ‘मन की बात’ की तर्ज पर ‘जन की बात’ का आयोजन किया जायेगा। इसमें आम नागरिकों से उनके विचार और अनुभव सुने जाएंगे। उन्होंने बताया कि सरकारी कार्यक्रमों में ‘सबका साथ सबका विकास’ सम्मेलन भी आयोजित किये जायेंगे जिनमें केन्द्र सरकार की विभिन्न योजनाओं - जनधन बैंक खाते, उज्जवला योजना, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, दुर्घटना बीमा योजना आदि के लाभार्थी शामिल होंगे और अपने अनुभव साझा करेंगे। उन्होंने कहा कि इन योजनाओं के लाभार्थियों की संख्या बहुत अधिक है। मुद्रा योजना के तहत सात करोड़ लोगों को ऋण मिला है जिनमें 70 प्रतिशत महिलायें हैं। उज्ज्वला योजना में दो करोड़ से अधिक गरीब महिलाओं की रसोई धुआं मुक्त हुई है। जन धन खाते से 25 करोड़ बैंक प्रणाली से बाहर रह गये लोगों को इस प्रणाली में लाया गया है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...