माेदी में गरीबों का विश्वास बढ़ा : जावड़ेकर

modi-poor-trust-increased-javadekar
नयी दिल्ली, 12 मई, भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के वरिष्ठ नेता और मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सरकार की कार्य संस्कृति में बदलाव तथा जन हित में किये गये कामों के चलते देश का गरीब और कमजोर तबका आज उनके साथ खड़ा है जो कभी इंदिरा गांधी के कारण कांग्रेस के साथ हुआ करता था। श्री जावड़ेकर ने आज यूएनआई मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि सरकार के तीन वर्ष पूरे होने पर अमूमन उसके खिलाफ माहौल बनने लगता है लेकिन इस बार उल्टा है कि मोदी सरकार के प्रति लोगों में अविश्वास की जगह विश्वास बढ़ रहा है। वर्ष 2014 के चुनाव में देश की जनता ने जहां एक उम्मीद से साथ श्री मोदी को वोट दिया था वहीं अब लाेग उनमें अपने बढ़ते विश्वास के लिये उनका समर्थन कर रहे हैं जो लगातार बढ़ रहा है। इसकी मुख्य वजह है कि श्री मोदी गांव, गरीब किसान, दलित शोषित पीड़ित और वंचित वर्ग को सबका साथ सबका विकास की राह पर देश को आगे बढ़ाने में जुटे हैं। हर माह के अंतिम रविवार को प्रसारित होने वाले मन की बात कार्यक्रम से प्रधानमंत्री का जनता से सीधा संवाद होने लगा है और इसकी भूमिका राष्ट्रीय पर्व जैसी हो गयी है। श्री जावड़ेकर ने कहा कि इंदिरा गांधी के कारण गरीब और कमजोर वर्ग जो कांग्रेस के साथ जुड़ा था वह श्री मोदी के कार्यों तथा नीतियों से अब भाजपा के साथ जुड़ गया है। विपक्ष की उपेक्षा करने के आरोप को गलत बताते हुये उन्होंने कहा कि विरोधी दल खुद जनता से दूर होते जा रहे हैं तथा वह यह समझ ही नहीं पा रहे हैं कि गरीब और आम आदमी श्री मोदी से साथ खड़ा हो गया है।

            
श्री जावड़ेकर ने कहा कि मोदी सरकार अलग सोच और अलग तरीके से मिशन के तहत कार्य कर रही है जिसके चलते सरकार की कार्य संस्कृति बदली है तथा सत्ता के दलाल खत्म हो गये हैं। इसके परिणाम स्वरुप सरकार पर अभी तक भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं लगा है। नौकरशाहों की सोच में बदलाव आया है। सचिवों को काम करने की स्वतंत्रता मिली है। सचिवों के समूहों से मिले उचित सुझावों पर सरकार अमल करती है। यूरिया को लेकर किसानों का प्रदर्शन और लाठी चार्ज और कोयले की कमी बिजली घरों के संकट की खबरें पिछली सरकारों के दौरान आम हुआ करती थीं लेकिन ये इस सरकार की नीतियों की वजह से अब सुनायी भी नहीं देती। इस सरकार ने तीन साल में रसोई गैस के छह करोड़ कनेक्शन उपलब्ध कराये। इसमें से दो करोड़ गरीबों को मुफ्त में दिये गये। सरकार के प्रयासों से एलईडी बल्ब की कीमत 350 रुपये से घटकर 70 रुपये पर आ गयी। दो वर्ष में 28 करोड़ एलईडी बल्ब लगने से 12000 करोड़ रुपये की बचत हुयी और ढाई करोड़ टन कार्बन उत्सर्जन कम हुआ। श्री मोदी की अपील पर एक करोड़ बीस लाख उपभोक्ताओं ने गैस सब्सिडी छोड़ी। प्राकृतिक संसाधनों की होने वाली खुली लूट को भी इस सरकार ने समाप्त कर दिया। उन्होंने इस बात को गलत बताया कि लोगों का ध्यान बंटाने के लिये भाजपा तीन तलाक का मामला उठा रही है। उन्होंने कहा कि हर समाज में सुधार हो रहा है। मुस्लिम समुदाय विशेषकर इस वर्ग की महिलाओं की तरफ से इस मामले को उठाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जहां तक इस समुदाय की सुरक्षा की बात है तो जिन राज्यों में भी भाजपा की सरकार रही है वहां इस समुदाय का तेजी से विकास हुआ है। इलेक्ट्राॅनिक वोटिंग मशीन को लेकर उठे विवाद पर श्री जावड़ेकर ने कहा कि राजनीतिक दलों को सच्चाई का सामना करना चाहिये। इसी ईवीएम से हुये मतदान से बिहार, दिल्ली, पश्चिम बंगाल और पंजाब विधानसभा के भी चुनाव हुये हैं।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...