पटनायक ने उग्रवाद से निपटने के लिए सीएपीएफ की दो और बटालियन की मांग की

naveen-patnaik-demands-2-more-batalions-of-capf-to-figh-against-terrorists
नयी दिल्ली 08 मई, आेड़िशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने आंध्र प्रदेश और छत्तीसगढ़ से उग्रवादियों की राज्य में घुसपैठ पर तत्काल प्रभावी कदम उठाने के लिए केंद्र सरकार से केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ)की दो और बटालियन दिये जाने की मांग की है। श्री पटनायक आज यहां गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में 10 नक्सल प्रभावित राज्यों की बैठक में शामिल हुए और कहा कि नक्सली खतरों का सामना करने और अन्य राज्यों के साथ समन्वय बनाने के लिए यहां अतिरिक्त तैनाती अनिवार्य है। मुख्यमंत्री ने कुछ विशेष प्रस्ताव सौंपे जिसमें जमीनी स्थिति को बदलने के लिए कुछ जिलों को चिह्नित कर उसके लिए विशेष सुरक्षा संबंधी खर्च योजना चलाने की मांग की। छत्तीसगढ़ के सुकमा में सुरक्षाबलों पर हालिया हमले की घटना को बेहद निराशाजनक बताते हुए श्री पटनायक ने कहा कि वर्तमान स्थिति गंभीर विश्लेषण, सामरिक समीक्षा और सामूहिक कार्रवाई की मांग करती है। उन्होंने कहा कि 2016 और 2017 के दौरान अब तक बड़ी संख्या में उग्रवादियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, लेकिन राज्य सरकार की आत्मसमर्पण और पुनर्वास नीति के कारण कई उत्साही कैडर भी आत्मसमर्पण कर चुके हैं। उग्रवाद प्रभावित इलाकों में पर्याप्त ढांचागत विकास के महत्व पर जोर देते हुए श्री पटनायक ने कहा कि वामपंथ उग्रवाद योजना के पहले चरण में स्वीकृत मौजूदा मोबाइल टॉवर को उच्चतर बैंडविड्थ के साथ इसे नियमित ट्रांस-रिसीवर इकाइयों में बदला जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने रेल मंत्रालय को पर्याप्त धन उपलब्ध कराने और मलकानगिरी-जेयपोरे और जेयपुर-नवारंगपुर रेलवे लाइनों को समयबद्ध तरीके से पूरा कराने का अनुरोध किया क्योंकि इससे इन क्षेत्रों की अर्थव्यवस्था पर सीधा प्रभाव पड़ेगा। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...