जनता के साथ संवाद बनाने वाला नेता ही होता है कामयाब : प्रणव

public-dialogue-leader-successful-pranav
नयी दिल्ली 26 मई, राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने अाज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को जनता के साथ संवाद कायम करने वाला एक अच्छा नेता बताते हुए कहा कि वही नेता अधिक कामयाब रहता है, जो लोगों के साथ सीधा संवाद बनाना जानता है। श्री मुखर्जी ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार के तीन साल पूरा होने के अवसर पर राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक समारोह में श्री मोदी के चर्चित मासिक कार्यक्रम ‘मन की बात’ के संकलनों की पुस्तक‘ और मार्चिंग विद अ बिलियन- एनलाइजिंग नरेन्द्र मोदीज गवर्नमेंट ऐट मिडटर्म पुस्तक की पहली प्रति ग्रहण करने के बाद यह बात कही। मन की बात: रेडियो पर सामाजिक क्रांति नामक पुस्तक का प्रकाशन अंग्रेजी और हिन्दी दोनों भाषाओं में किया गया है। इन तीनों पुस्तकों का लोकार्पण सुमित्रा महाजन ने किया और इस मौके पर उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी, वित्त मंत्री अरुण जेटली, विधि मंत्री रविशंकर प्रसाद, संस्कृति एवं पर्यटन राज्यमंत्री महेश शर्मा, सूचना एवं प्रसारण मंत्री राज्यवर्धन राठौड़ के अलावा कई गण्यमान्य लोग शामिल थे, चर्चित अभिनेत्री प्रिटी जिंटा, प्रख्यात सरोद वादक अमजद अली खान, नृृत्यांगना सोनल मानसिंह आदि उपस्थित थीं। राष्ट्रपति ने अपने संबोधन में कहा कि देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी भी जनता के साथ संवाद बनाने में कुशल थीं और वही प्रभावी नेता होता है जो जनता के साथ संवाद कायम करता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी जनता के साथ संवाद कायम करने में कुशल हैं। उन्होंने कहा कि युद्धों में भी संचार की भूमिका महत्वपूर्ण होती है और उसके बिना लड़ाइयां नहीं जीती जा सकती हैं। बंगलादेश मुक्ति संग्राम के दौरान भी संचार ने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी थी।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...