झारखंड सरकार की सखी मंडल योजना रोल मॉडल : अनंत

sakhi-mandal-yojana-is-a-role-model-of-jharkhand-says-anant-kumar
रांची 15 मई, केंद्रीय रसायन, उर्वरक एवं संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने झारखंड सरकार के सखी मंडल योजना को रोल मॉडल बताया और कहा कि यह योजना राज्य के विकास में मददगार साबित होगी। श्री कुमार और झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आज यहां केंद्रीय प्लास्टिक अभियांत्रिकी एवं प्रौद्योगिकी संस्थान (सीआईपीईटी) की आधारशिला रखी। कार्यक्रम में श्री कुमार ने कहा कि झारखंड सरकार द्वारा शुरू की गई सखी मंडल योजना के साथ ही योजना बनाओ अभियान सभी के लिए रोल मॉडल की तरह है। इसके अलावा डोभा निर्माण एवं पंचायत सचिवालय का गठन, यह सभी राज्य के विकास में मददगार साबित होंगे। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि झारखंड देश का पहला ऐसा राज्य है जहां सीआईपीईटी की आधारशिला और उद्घाटन दोनों साथ-साथ संपन्न हुआ है। दो महीने के भीतर यहां सत्र की शुरुआत हो जाएगी जहां 1500 छात्रों को व्यावसायिक एवं डिप्लोमा प्रशिक्षण उपलब्ध कराया जाएगा। उन्हाेंने मुख्यमंत्री की प्रशंसा करते हुये कहा कि सीआईपीईटी का रांची में सेंटर स्थापित होना श्री दास के अथक प्रयासों का ही परिणाम है। 

श्री कुमार ने कहा कि राज्य के सिंदरी उर्वरक कारखाना को शुरू करने के लिए केंद्र सरकार ने 6000 करोड़ रुपये का आवंटन किया है। उन्होंने कहा कि इस कारखाना के शुरू होने से एक लाख टन यूरिया का उत्पादन हो सकेगा। उन्होंने इस अवसर पर राज्य में 100 नये जन औषधि केंद्र स्थापित करने की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की मांग पर देवघर, जमशेदपुर और पलामू में तीन और सीआईपीईटी स्थापित किये जाएंगे। मुख्यमंत्री श्री दास ने कहा कि राज्य में प्लास्टिक आधारित कुल 89 इकाइयां संचालित की जा रही है। सीआईपीईटी से प्रशिक्षण प्राप्त छात्र इन इकाइयों के लिए परिसंपदा की तरह होंगे। उन्होंने कहा कि राज्य में प्लास्टिक उद्योग की संभावनाओं को देखते हुये देवघर के देवीपुर में 169 एकड़ में प्लास्टिक पार्क बनाया जा रहा है। इसके अलावा राजधानी रांची में फार्मा पार्क स्थापित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य में प्लास्टिक इंजीनियरिंग और उद्योग को बढ़ावा देने के लिए सरकार प्लास्टिक क्षेत्र के लिए शीघ्र ही अलग नीति तैयार करेगी। इस अवसर पर रांची से सांसद रामटहल चौधरी और झारखंड के शहरी विकास मंत्री सी. पी. सिंह सहित कई अन्य अधिकारी उपस्थित थे। 
sakhi-mandal-yojana-is-a-role-model-of-jharkhand-says-anant-kumar
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...