विशेष : हौसले की उड़ान के दम पर मिलती है सफलता

santosh-shivam
प्रद्योत कुमार। एक लंबे संघर्ष के लिए रखे गए धैर्य को हम "तपस्या" का नाम दे सकते हैं और उस संघर्षशील व्यक्ति को तपस्वी हम कह सकते हैं,वैसे ही तपस्वी हैं "संतोष शिवम"।आज से सोलह वर्ष पहले पूर्णियां ज़िला के भूरी,पश्चिम टोला गाँव के निवासी अपनी आँखों में एक सपना लिए मायानगरी मुम्बई की ओर यात्री बनकर अपने गंतव्य की तलाश में बॉलीवुड में अभिनेता बनने निकल पड़े थे लेकिन जनाब मायानगरी की माया के आगे किसी की नहीं चलती है क्यूंकि मुम्बई का सच ये है कि वो शहर अपने हिसाब से किसी व्यक्ति की किस्मत का फैसला करता है या यूँ कह सकते है कि तक़दीर लिखता है फिर मुम्बई की माया ने शिवम को अभिनेता से निदेशक बना दिया, है न कमाल की माया इसीलिए मुम्बई का दूसरा नाम मायानगरी है।वर्षों के लंबे संघर्ष को झेलने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा वो इसीलिए कि परिवार का कोई आर्थिक सहयोग नहीं था और होता भी कहाँ से क्योंकि शिवम एक ग़रीब ब्राह्मण परिवार में जन्म लेते हुए ऊँची परवाज़ करने की सोच ली तो संघर्ष की सेज़ पर हौसले को तोड़ देने वाली अग्निवर्षा होती रही और संतोष शिवम की ना थकने वाली यात्रा भी होती रही और उसी यात्रा का नतीजा है कि आज वो "हॉलीवुड" के लिए एक शार्ट फिल्म इसी महीने निदेशित करने जा रहे हैं।फिल्म का नाम है "ड्रीम कैचर" ये कॉन्सेप्ट भी इन्हीं का है और बतौर अभिनेता लिंकन(ऑस्ट्रेलिया के सुपर स्टार),पूजा प्रियंका 2016 मिस वर्ल्ड एवं बॉलीवुड सुपरस्टार धर्मेंन्द्र काम कर रहे हैं,बताते चलें कि धर्मेंद्र की ये पहली हॉलीवुड फिल्म है बतौर अभिनेता।इसके अलावे पंकज कपूर,क़ायनात अरोड़ा और संदीप धार अभिनीत एक "एरोटिक थ्रिलर" फ़िल्म जिसका नाम "पेंटर" है जून के अंतिम सप्ताह से शूट करेंगे।अब यहां तक के सफरनामा को जानने के लिए थोड़ा पीछे चलना होगा वो ये कि बतौर मुख्य सहायक निदेशक शिवम ने समीर कार्णिक,विक्रम भट्ट,मो0 तरीक और शेखर कपूर जैसे दिग्गज निदेशक के साथ काम किया है।आज पूर्णियां के साथ साथ पूरे बिहार के लिए गर्व की बात है कि भूरी से हॉलीवुड तक का सफ़र तय करने वाला ये शख़्स सचमुच जल्द ही बिहार को गौरवान्वित करेगा।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...