सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 19 मई

sehore map
सेवा पुस्तिकायें 31 मई तक जमा होंगी

संचालनालय कोष एवं लेखा म.प्र. भोपाल के निर्देशानुसार संभागीय संयुक्त संचालक कोष एवं लेखा द्वारा संभागान्तर्गत सभी शासकीय कार्यालय के आहरण एवं संवितरण अधिकारियों को अवगत कराया गया है कि वेतन निर्धारण अनुमोदन हेतु कई सेवा पुस्तिकाएं पूर्व में आपत्ति लगाकर वापस की गई थीं। इन सेवा पुस्तिकाओं में आपत्तियों का निराकण कर आवश्यक प्रविष्टि सेवा पुस्तिका में की जाकर एवं वांछित दस्तावेज व प्रपत्र संलग्न कर 31 मई,2017 तक संभागीय संचालक कोष एवं लेखा, कार्यालय में अनिवार्य रूप से जमा करा दी जाए।  इसके अतिरिक्त सेवानिवृत्त, मृत्यु एवं न्यायालयीन प्रकरणों से संबंधित सेवा पुस्तिकाएं वेतन निर्धारण अनुमोदन के लिए 31 मई,201र्7 के बाद भी जमा करायी जा सकती हैं। 

प्रायमरी और मिडिल स्कूल शाला भवन मरम्मत हेतु राशि जारी

प्रदेश में सरकारी प्रायमरी और मिडिल स्कूल भवन के वार्षिक रख-रखाव के लिये 3 कक्ष तक के स्कूल के लिये 5,000 रुपये और तीन कक्ष से अधिक वाले स्कूल के लिये 10 हजार रुपये की राशि जारी की गई है। यह राशि राज्य शिक्षा केन्द्र द्वारा शाला प्रबंधन समिति के खाते में जारी की गई है। इस संबंध में स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा कलेक्टर्स को निर्देश जारी किये गये हैं। स्कूल के रख-रखाव के कार्य शिक्षण सत्र शुरू होने के पहले करवाये जाने के लिये कहा गया है।


डाटा एंट्री आपरेटर को सीपीसीटी परीक्षा उर्तीण करना अनिवार्य

सभी शासकीय कार्यालयों मे विभिन्न योजनाओं के अतंर्गत कार्यरत अथवा नियुक्त डाटा एंट्री आपरेटरर्स को सूचना प्रोद्योगिकी के माध्यम से आयोजित होने वाली सीपीसीटी परीक्षा अनिवार्य रूप से उतीर्ण होगी अन्यथा की स्थिति मे उनका वेतन आहरित नही किया जायेगा। जो भी कम्प्युटर आपरेटर शासकीय कार्यालय मे नियुक्त है वे मई मे होने वाले सीपीसीटी टेस्ट के लिए परीक्षा दे। सभी का सीपीसीटी उर्तीण होना अनिवार्य है। सीपीसीटी टेस्ट के लिए आवेदन की प्रति प्रस्तुत करने पर ही आपरेटर्स का वेतन भुगतान किया जायेगा। 

रोजगार की पढाई चलें आईटीआई अभियान 30 जून तक चलेगा

शिक्षा के साथ-साथ रोजगार भी आवश्यक है। युवाओं को शिक्षा के साथ कौशल उन्नयन से जोडकर रोजगार का अवसर दिया जा रहा है। अभियान 30 जून,2017 तक 4 चरण में चलाया जाएगा। अभियान का प्रथम चरण 25 मई तक चलेगा। इसके तहत आईटीआई में ग्रीष्मकालीन शिविर लगाए जा रहे हैं। इन शिविरों में शालात्यागी बच्चों को प्रतिदिन दो घण्टे आईटीआई में प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रत्येक बच्चे को कुल छरू घण्टे का मूलभूत प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिसमें कम्प्यूटर सूचना संचार प्रणाली तथा घरेलू बिजली से संबंधित तकनीकी कार्या का निःशुक्ल प्रशिक्षण दिया जाएगा। विद्यार्थियों को रोजगार एवं स्वरोजगार के विभिन्न विकल्पों की भी जानकारी दी जाएगी। अभियान के दूसरे चरण में ग्रीष्मकालीन शिविर में प्रशिक्षण के दौरान उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्र-छात्राओं को प्रदेश स्तर पर 30 मई को सम्मानित किया जाएगा। अभियान के तीसरे चरण में 1 जून से 15 जून,2017 तक स्कूल के छात्र-छात्राओं को आईटीआई का भ्रमण कराया जाएगा। उन्हे कौशल उन्नयन के विभिन्न पाठयक्रमों की जानकारी दी जाएगी। अभियान का अंतिम चरण 15 से 30 जून,2017 तक चलेगा। इस अवधि में आईटीआई के प्रशिक्षक एवं अन्य अधिकारी स्कूलों में जाकर रोजगार की पढाई चलें आईटीआई अभियान की जानकारी देगें। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...