शत्रुघ्न सिन्हा के ट्वीट से भाजपा का अंतरकलह गहराया

shotgun-twit-makes-noise-in-bihar-bjp
पटना 24 मई, बिहार के पटना साहेब से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री शत्रुघ्न सिन्हा के आज लगातार किये गये ट्वीट के बाद पार्टी के अंदर का कलह एक बार फिर उजागर हो गया है। श्री सिन्हा ने भाजपा विधानमंडल दल के नेता एवं पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी का नाम लिए बगैर लगातार कई ट्वीट में कहा, “कोई भी यह विश्वास नहीं कर सकता कि पार्टी से मेरे निष्कासन की बात कही गयी है, भाजपा के आदरणीय नेता भोला बाबू ने सही पूछा है कि उन्होंने किस हैसियत से पार्टी से मेरे निष्कासन की मांग की है । आरोप लगाने के पूर्व उन्हें खुद अपने अंदर झांक कर देख लेना चाहिए कि उनका व्यक्तित्व और उनकी कार्यशैली कहां पर है..। यह उचित समय है कि वह स्वयं सीख लें या पार्टी आलाकमान उन्हें सबक सिखाये।” भाजपा सांसद ने दूसरे ट्वीट में कहा, “मेरे लिये वे अभी भी प्रिय हैं और मैं उन्हें सिर्फ भविष्य के लिए शुभकामनाएं दे सकता हूं । भगवान उन्हें आशीर्वाद दें । जय बिहार , जय हिन्द ।”


इसी तरह एक अन्य ट्वीट में श्री सिन्हा ने कहा, “बिहार के एक वरिष्ठ राजनीतिक सहयोगी और नेता के द्वारा मेरे खिलाफ असंसदीय बयान दिये जाने से आहत होकर वरिष्ठ राजनीतिज्ञयों, साथियों, शुभचिंतकों और दोस्तों से कई संदेश प्राप्त हुए हैं। लंबे समय से रहे एक राजनीतिक साथी और आदरणीय वरिष्ठ नेता के खिलाफ इतना निम्न स्तर पर जाकर मान्य परंपरा को तोड़ते हुए असंसदीय भाषा का प्रयोग किया गया ।” श्री सिन्हा ने एक अन्य ट्वीट में कहा, “बेचैनी, परेशानी और राजनीतिक हार कहीं से भी इस तरह के बयान को सही साबित नहीं कर सकता । ऐसा प्रतीत होता है कि यह काफी गहरा और जटिल लगता है।” उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, “उन्हें पार्टी के अंदर और बाहर के कई लोगों ने उनकी चिंता, धैर्य और सिद्धांत की प्रशंसा की है जबकि अधिकांश लोगों ने उनके बयानों की आलोचना की है जिससे पार्टी की छवि धूमिल हुयी है । पार्टी की बिहार विधानसभा चुनाव में करारी हार के लिए भी इनके जैसे नेता ही जिम्मेवार हैं ।” श्री सिन्हा ने एक अन्य ट्वीट में कहा, “आज इस व्यक्ति की इतनी हिम्मत है कि वह लोगों के बीच मेरा नाम उछाल रहा है।” उल्लेखनीय है कि दो दिन पूर्व श्री सिन्हा ने राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के समर्थन में ट्वीट करते हुए श्री सुशील मोदी पर नकारात्मक राजनीति करने का आरोप लगाया था । इसके जवाब में श्री मोदी ने बिना नाम लिये कहा कि गद्दार भाजपा के शत्रु को पार्टी से बाहर किया जाना चाहिए । श्री मोदी के ट्वीट के बाद बेगूसराय से भाजपा के सांसद भोला प्रसाद सिंह ने उसी दिन श्री सिन्हा के समर्थन में बयान दिया था । 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...