बलात्कारी के कार्यक्रम में लगे मंत्रियों के आगमन पर रोकः विजयपाल

  • बलात्कारी के कार्यक्रम में लगे मंत्रियों के आगमन पर रोक

stop-taintained-minister
मथुरा। 27 मई को मथुरा में उपजा एवं ब्रज पे्रस क्लब द्वारा आयोजित तथा कथित पत्रकारिता दिवस में आमंत्रित उत्तरप्रदेश सरकार के मंत्रियों के शामिल होने को लेकर विवाद खड़ा हो गया है। बार एशोसियेशन के पूर्व अध्यक्ष विजय पाल सिंह तोमर ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर कार्यक्रम आयोजक के बलात्कारी होने का आरोप लगाते हुए तत्काल मंत्रियों के आगमन पर रोक लगाने की मांग की है। मथुरा के चर्चित एमबीए छात्रा रेप काण्ड की चिंगारी फिर भड़कती हुई दिखाई दे रही है। बलात्कार के आरोपी बृज प्रेस क्लब के अध्यक्ष एवं उपजा उपाध्यक्ष कमलकांत उपमन्यु पर दिसम्बर 2014 में बलात्कार का आरोप लगा था। जिसका विवाद अभी इलाहाबाद उच्च न्यायालय में चल रहा है द्वारा 27 मई को शहर के प्रमुख होटल में तथा कथित पत्रकारिता दिवस पर आयोजन किया गया है। जिसमें उ.प्र. के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा, दुग्ध विकास मंत्री चै. लक्ष्मी नारायण, कानून मंत्री बृजेश पाठक सहित अन्य मंत्रियों को आमंत्रित किया गया है। इसे लेकर इलाहाबाद उच्च न्यायालय में जनहित याचिका दाखिल करने वाले बार एशोसियेशन के पूर्व अध्यक्ष विजय पाल सिंह तोमर ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर शिकायत की है कि कार्यक्रम आयोजक उपमन्यु बसपा से लोकसभा का चुनाव लड़ चुका है, सपा सरकार की भी छवि धूमिल करता रहा है। वह माफियाओं का सफेदपोश चेहरा है। अगर उ.प्र. सरकार के मंत्री उक्त कार्यक्रम में भाग लेते हैं तो सरकार की छवि धूमिल होगी। कार्यक्रम में मंत्रियों के आगमन से आरोपी जनता और प्रशासन में यह संदेश देने में सफल होगा कि सपा-बसपा सरकार की तरह भाजपा सरकार में भी उसकी पकड़ मजबूत है। इससे यूपी सरकार की छवि तो धूमिल होगी ही बल्कि अपराधियों में भी शासन-प्रशासन के प्रति गलत संदेश जायेगा। श्री तोमर ने मुख्यमंत्री से जनहित में मंत्रियों के आगमन पर रोक लगाने की मांग की है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...