विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 28 मई

त्यौहार भाईचारे के प्रतीक, शांति समिति की बैठक सम्पन्न

vidisha news
विदिशा जिले का इतिहास रहा है कि सभी त्यौहार भाईचारे की भावना को और अधिक बढ़ावा देते है। आगामी त्यौहारो के परिपेक्ष्य में की जाने वाली तैयारियों की बिन्दुवार चर्चा आज शांति समिति की बैठक में की गई। कलेक्टर श्री अनिल सुचारी की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई इस बैठक मंे उन्होंने समिति के पदाधिकारियों द्वारा दिए गए जन हितैषी सुझावो के साथ-साथ आवश्यक व्यवस्थाओं का क्रियान्वयन करने के निर्देश संबंधित विभागो के अधिकारियो को दिए गए। कलेक्टेªट के सभाकक्ष में आज शांति समिति की बैठक आगामी पर्व ईद-उल-फितर और भगवान जगदीश स्वामी रथ यात्रा के परिपेक्ष्य मंे आयोजित की गई थी। नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन ने कहा कि त्यौहारो के मद्देनजर जो जबावदंेही नगरपालिका को सौंपी जाएगी उसका समयावधि में क्रियान्वयन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि शहर में पानी के लिए नई लाइन 280 किलोमीटर डालने का कार्य चल रहा है इसके पश्चात् 360 किलोमीटर लम्बी सीवेज लाइन डालने का कार्य किया जाएगा। इस कार्य अवधि के दौरान आमजनों को आवागमन में कुछ तकलीफ हो सकती है। विसर्जन स्थल जानकी कुंड के मामले में श्री रामलीला मेला समिति और नगर के प्रबुद्व गणमान्य नागरिक जो निर्णय लेंगे उसका क्रियान्वयन नगरपालिका करेगी। विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर ने कहा कि त्यौहारों के दौरान प्रशासन द्वारा बेहतर व्यवस्थाएं की जाती रही है हम सबका भी नैतिक दायित्व है कि हम प्रशासन को सहयोग करें। उन्होंने बताया कि नगर के कुछ क्षेत्रों में अवैध शराब बिक्री की सूचनाएं प्राप्त हो रही है जिस पर शीघ्र कार्यवाही की जाए। पुलिस अधीक्षक श्री धर्मेन्द्र चैधरी ने कहा कि त्यौहारोे के दौरान कानून व्यवस्था बनाए रखने, बेहतर आवागमन सुचारू रूप से हो सकें के लिए पुलिस द्वारा विशेष प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि शुक्रवार को आवश्यकता पड़ने पर ट्राफिक को डायवर्ट भी किया जा सकता है। श्री चैधरी ने इस प्रकार की बैठक प्रत्येक माह आयोजित करने की बात कहते हुए कहा कि यदि समिति के सदस्य इस पर सहमति देते है तो क्रियान्वयन किया जाएगा। बैठक में साफ-सफाई, आवारा मवेशियों की रोकथाम, सड़को की मरम्मत, पेयजल व्यवस्था, खाद्य पदार्थो की जांच, विद्युत आपूर्ति, चिकित्सा, यातायात व्यवस्था, भगवान जगन्नाथ यात्रा के दौरान मानोरा तक आवागमन सुगमता से हो सकें इत्यादि विषयों पर समिति के सदस्यों द्वारा आवश्यक सुझाव दिए गए। बैठक में समिति के सम्माननीय सदस्यगणों के अलावा अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री विनोद सिंह चैहान, एसडीएम श्री आरपी अहिरवार और विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा मीडियाबंधु मौजूद थे।


तैयारियों संबंधी बैठक आज

अतिवर्षा एवं बाढ़ की स्थिति से निपटने की पूर्व तैयारियों संबंधी बैठक सोमवार 29 मई को कलेक्टेªट के सभाकक्ष मेें टीएल बैठक के उपरांत आयोजित की गई है कि जानकारी देते हुए अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा ने संबंधित विभागों के अधिकारियों से कहा कि वे विभागीय समुचित तैयारियों, कार्ययोजनाओं के साथ बैठक में उपस्थित होना सुनिश्चित करें। 

जिला बदर की कार्यवाही

जिला दण्डाधिकारी श्री अनिल सुचारी ने एक प्रकरण में जिला बदर के आदेश जारी कर दिए है पुलिस अधीक्षक श्री धर्मेन्द्र चैधरी के प्रतिवेदन पर जिला बदर की कार्यवाही की गई है जारी आदेशानुसार अनावेदक अंशु शर्मा पुत्र नर्बदा प्रसाद शर्मा उम्र 24 वर्ष निवासी राजेन्द्र नगर पठार मोहल्ला बासौदा को आदेश प्राप्ति से जिला विदिशा एवं समीपवर्ती जिले रायसेन, भोपाल, गुना, अशोकनगर, सागर, राजगढ की राजस्व सीमाओं सेे एक वर्ष की कालावधि के लिए निष्काशित किया गया है। 

काल सेन्टर स्थापित 

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अनिल सुचारी ने बताया कि जिले के मतदाताओं की शिकायतों की त्वरित प्राप्ति हेतु जिला मुख्यालय पर कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है जिसका दूरभाष क्रमंाक 07592-233302 है। उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री एचपी वर्मा ने बताया कि मतदाताओं की शिकायतों के निराकरण हेतु नोड्ल अधिकारी नियुक्त किया गया है। उक्त दायित्व डिप्टी कलेक्टर श्री मनोज वर्मा को सौंपा गया है। नोड्ल अधिकारी की सहायता हेतु सहायक प्रोग्रामर की भी जिला निर्वाचन कार्यालय में नियुक्ति की गई है। मतदाता चाहे तो अपनी शिकायते नोड्ल अधिकारी श्री मनोज वर्मा को उनके मोबाइल नम्बर 9893091290 पर भी बता सकते है।

आरओआर कार्य हेतु सेवानिवृत्तों से आवेदन आमंत्रित

कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने बताया जिले के तीन मूल राजस्व ग्रामों के तीन मजरा टोलो को नए राजस्व ग्राम घोषित होने के कारण कुल छह राजस्व ग्रामों का नया अधिकारी अभिलेख निर्माण (आरओआर) कार्य हेतु दक्षता रखने वाले सेवानिवृत्तोें से 30 मई तक आवेदन आमंत्रित किए गए है। आरओआर कार्य करने हेतु सेवानिवृत्त सहायक अधीक्षक भू-अभिलेख, राजस्व निरीक्षकों जिन्हें बंदोबस्त योजना/अधिकार अभिलेख निर्माण कार्य का अनुभव हो ऐसे इच्छुक आवेदकों से आवेदन आमंत्रित किए गए है उक्त कार्य संविदा नियुक्ति एवं निर्धारित मानदेय की शर्तो के अधीन होगा। ततसंबंध मंे अन्य विस्तृत जानकारी के लिए अधीक्षक भू-अभिलेख कार्यालय से जानकारी प्राप्त की जा सकती है। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...