एक करोड़ के पार पहुँची हवाई यात्रियों की संख्या

air-traffic-number-reaches-to-one-crore
नयी दिल्ली 19 जून, घरेलू मार्गों पर हवाई यात्रियों की संख्या इस साल मई में 17 प्रतिशत से ज्यादा की वृद्धि के साथ एक करोड़ के पार पहुँच गयी। यह पहला मौका है जब यह आँकड़ा एक करोड़ के पार पहुँचा है। नागर विमानन महानिदेशालय के अनुसार, इस साल मई में देश में हवाई यात्रियों की संख्या एक करोड़ एक लाख 74 हजार रही जो मई 2016 के 86 लाख 69 हजार से 17.36 प्रतिशत ज्यादा है। साल के पहले पाँच महीनों में जनवरी से मई के दौरान हवाई यात्रियों की संख्या 17.63 प्रतिशत बढ़ते हुये चार करोड़ 65 लाख 87 हजार पर पहुँच गयी। पिछले साल इसी अवधि में यह तीन करोड़ 96 लाख चार हजार रही थी। घरेलू हवाई यातायात में बाजार हिस्सेदारी के मामले में 41.2 प्रतिशत यात्रियों के साथ इंडिगो पहले स्थान पर रही। वहीं 15.2 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ जेट एयरवेज दूसरे स्थान पर और सरकारी विमान सेवा कंपनी एयर इंडिया 13 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रही। किफायती विमान सेवा कंपनी स्पाइसजेट की बाजार हिस्सेदारी 12.6 प्रतिशत, गो एयर की 8.5 प्रतिशत तथा विस्तारा और एयर एशिया दोनों की 3.3 प्रतिशत रही। भरी सीटों के साथ उड़ान भरने में स्पाइसजेट ने एक बार फिर बाजी मार ली है। उसका पैसेंजर लोड फैक्टर 94.3 प्रतिशत रहा। इस मामले में 93 प्रतिशत के साथ गो एयर दूसरे और 91.1 प्रतिशत के साथ इंडिगो तीसरे स्थान पर रही। इस मामले में बड़ी एयरलाइंसों में एयर इंडिया 80.9 प्रतिशत के साथ सबसे पीछे रही।  
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...