गरीबों को स्थायी तौर पर बसाने के लिए माले का दो दिवसीय अनशन आरंभ

cpi-ml-two-day-protest-for-poor
पटना 27 जून, पटना के गर्दनीबाग के एक से 40 नंबर रोड के बीच भवन निर्माण की 182 एकड़ जमीन में कम से कम 20 एकड़ जमीन पर गरीबों को स्थायी तौर पर बसाने अथवा आरक्षित करने, बिना वैकल्पिक व्यवस्था किए गरीबों केे उजाड़े जाने पर रोक लगाने, बन्द राशन-किरासन की आपूर्ति चालू कराने व जिला प्रशासन द्वारा गरीबो के नष्ट की गयी झोपड़ियों का मुआवजा देने सहित अन्य मांगों पर आज भाकपा-माले व ऐपवा का दो दिवसीय अनशन का कार्यक्रम गर्दनीबाग धरनास्थल पर आरंभ हुआ. अनशन पर भाकपा-माले के लोकप्रिय नेता मुर्तजा अली, ऐपवा नेता काॅ. रेखा देवी, बबीता देवी और राधा देवी को पार्टी पोलित ब्यूरो के सदस्य काॅ. अमर व केंद्रीय कमिटी की सदस्य शशि यादव ने अनशन पर बैठाया. इस मौके पर केंद्रीय कमिटी सदस्य काॅ. केडी यादव भी उपस्थित थे.


भूख हड़ताल शुरू होने के अवसर पर सभा को भाकपा माले के कई राज्यस्तरीय नेतागण ने संबोधित किया. नेताओं ने कहा कि गर्दीनीबाग के भवन निर्माण की उपलब्ध 182 एकड़ जमीन के कई हिस्सों पर गरीब लोग लंबे समय से बसे हुए हैं. इन गरीबों के लिए कम से कम 20 एकड़ जमीन आरक्षित करने की मांग पर यह अनशन आरंभ हुआ. माले पोलित ब्यूरो सदस्य काॅ. अमर ने कहा कि सरकार गरीबों को बिना वैकल्पिक व्यवस्था किए उजाड़ना चाहती है, जबकि कोर्ट का आदेश है कि बिना वैकल्पिक व्यवस्था किए सरकार गरीबों को नहीं उजाड़ सकती है. लेकिन व्यवहार में ठीक इसका उलटा हो रहा है.

सभा का संचालन भाकपा-माले की राज्य कमिटी के सदस्य रणविजय कुमार और नवीन कुमार ने किया. इस मौके पर पार्टी नेता रामबली प्रसाद, राज्य कमिटी की सदस्य समता राय, अनीता सिन्हा, आकाश कश्यप, टेंपो यूनियन के नेता नवीन मिश्रा, रामकल्याण जी आदि उपस्थित थे.

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...