दुमका : कई दिन बीत गए अभी तक अंचल व टाउन थाना ने जाँच की कोई कार्रवाई पूरी नहीं की

  • मामला उप राजधानी दुमका नगर परिषद् क्षेत्रान्तर्गत वार्ड सं0-16 के राजेन्द्र नगर (गिलानपाड़ा) मुहल्ले की है। 
dumka-police-not-taking-action
दुमका नगर परिषद् क्षेत्र अन्तर्गत वार्ड नम्बर 16 गिलान पाड़ा (राजेंद्र नगर) में नगर परिषद द्वारा निर्माणधीन पीसीसी सड़क को एक दबंग व्यक्ति द्वारा जबरन रोक दिये जाने के कारण संवेदक द्वारा उपरोक्त को अधूरा छोड़ दिया गया था। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए अनुमंडल पदाधिकारी जय प्रकाश झा ने जन शिकायत के बाद पत्रांक संख्या 259 दिनांक 3 जून 2017 के माध्यम से अंचल अधिकारी दुमका व नगर थाना प्रभारी दुमका को मामले की जांच कर त्वरित कार्रवाई का आदेश दिया। अनुमण्डल पदाधिकारी द्वारा जारी आदेश के तीन दिनों बाद भी अंचल कार्यालय व दुमका नगर थाना द्वारा अब तक कोइ कार्रवाई नही की गई है। दुमका नगर परिषद के तत्वावधान में शहर के वार्ड संख्या 16 गिलान पाड़ा (राजेन्द्र नगर) में निर्माणधीन पीसीसी सड़क को एक दबंग व्यक्ति द्वारा रोक दिये जाने के संवेदक द्वारा उक्त कार्य को अधूरा छोड़ दिया गया था, परिणामस्वरुप नगर परिषद व जिला प्रशासन के विरुद्ध  आम लोगो का आक्रोश दिन-व-दिन बढ़ता ही जा रहा था। स्थानीय नागरिको द्वारा बीते 31 मई को  जिले के उपायुक्त, अनुमंडल पदाधिकारी, नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी व नगर परिषद अध्यक्ष को लिखित शिकायत भी भेजी गई थी, बावजूद नगर परिषद व जिला प्रशासन द्वारा किसी प्रकार का संज्ञान नही लिया जा रहा था। प्राप्त जानकारी के अनुसार राजेन्द्र नगर निवासी संजय यादव ने बाहुबल का इस्तेमाल करते हुए सड़क निर्माण कार्य यह कह कर रुकवा दिया है कि सड़क उनकी निजी जमीन पर अवस्थित है, जबकि श्री यादव स्वयं एक अनुसूचित जनजाति समुदाय के व्यक्ति सुनील मुर्मू की जमाबन्दी जमीन पर दानपत्र से प्राप्त जमीन पर मकान बनाकर रह रहे है। सुनील मुर्मू ने संजय यादव के अलावे कई अन्य लोगो को दानपत्र पर जमीन देकर दस फीट सड़क आवागमण छोड़ रखा है जिसपर तीन फीट जमीन का अतिक्रमण खुद बाहुबली संजय यादव ने पूर्व में ही शौचालय का निर्माण करवा लिया है। शेष बचे सात फीट सड़क को भी वे अपना बता रहे हैं बिल्कुल गैरवाजिब है। रोकवा दिया है। मुहल्लेवासियों का आरोप है कि खाली सड़क मार्ग का मालिकाना हक सुनील मुर्मू के नाम पर खतिहान में दर्ज है। नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी सड़क अतिक्रमण करनेवाले को ही शह दे रहे है। सड़क का निर्माण कार्य अवरुद्ध हो जाने से भारी जलजमाव की स्थिति बनी हुई है। इस रास्ते से गुजरने वाले लोग काफी मुश्किलों से अपना काम कर पा रहे हैं। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...