पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट, 21 से अधिक की मौत

explosion-in-cracker-factory-more-than-21-death
बालाघाट, 07 जून,  मध्यप्रदेश के बालाघाट जिला मुख्यालय से आठ किलोमीटर दूर खैरी गांव में एक पटाखा फैक्ट्री में आज दोपहर विस्फोट हो गया, जिसमें 21 से अधिक लोगों की मौत हो गई है, गंभीर रूप से घायल सात मजदूरों को इलाज के लिए नागपुर भेजा गया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार हादसा दोपहर लगभग तीन बजे हुआ। वैनगंगा नदी के खैरी घाट के समीप एक झोपड़ी में संचालित इस फैक्ट्री में हादसे के वक्त 47 मजदूर काम कर रहे थे। जिनमें ज्यादातर महिलाएं बताई जा रही हैं। विस्फोट से इस फैक्ट्री के परखच्चे उड़ गये। मजदूरों के क्षत विक्षत शव के हिस्से भी 200 मीटर दूर तक फैल गये। मौके पर प्रशासन बचाव और शवों की बरामदगी का प्रयास कर रहा है। बालाघाट के पुलिस अधीक्षक (एसपी) अमित सांघी ने बताया कि शाम सात बजे तक मौके से 21 शव बरामद कर लिये गये थे। उन्होंने कहा कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। बालाघाट के विधायक और कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन ने बताया कि सरकार ने प्रत्येक मृतक के लिये दो लाख रुपये के मुआवजे की घोषणा की है। पटाखा फैक्ट्री में हुए विस्फोट की आवाज़ दो किलोमीटर दूर तक सुनाई दी। हादसे में घायल हुई तीन महिलाएं सबसे पहले गांव तक आई जिन्होंने हादसे की जानकारी दी। इसके बाद मौके पर पुलिस और राहत कर्मी पहुंचे। कलेक्टर भरत यादव, श्री सांघी सहित पुलिस और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचकर बचाव का काम देख रहे हैं। फैक्ट्री के पास 100 क्विंटल बारूद रखने तथा पटाखा बनाने के अनुमति थी, लेकिन पुख्ता सुरक्षा इंतजाम नहीं थे। घटना के बाद से फैक्ट्री का मालिक रज्जू वारिस फरार बताया जा रहा है। इसके पूर्व वर्ष 2015 भी जिले के किरनापुर में एक पटाखा फैक्ट्री में ऐसा ही विस्फोट हुआ था, जिसमें तीन श्रमिकों की मौत हो गई थी।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...