जीजेएम समर्थकों ने दार्जिलिंग में सरकारी कार्यालयों में आग लगायी

gjm-supporters-set-fire-to-government-offices-in-darjeeling
दार्जिलिंग/सिलीगुड़ी 12 जून, पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग में विमल गुरंग की अगुवाई वाले गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (जीजेएम) के अनिश्चितकालीन बंद के आज पहले दिन पृथक गोरखालैंड समर्थकों ने आज कई सरकारी कार्यालयों में आग लगा दी, बंद के मद्देनजर प्रशासन ने दार्जिलिंग में धारा 144 लागू कर दी है। प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक गोरखालैंड समर्थकों ने सिंगमाड़ी में पीडब्ल्यूडी कार्यालय, विजनबाड़ी में बीडीओ कार्यालय तथा सोनाडा में एक हाइड्रो परियोजना कार्यालय में आग लगा दी। प्रदर्शनकारी सुकना स्थित एक पंचायत कार्यालय पहुंचे और कर्मचारियों को बाहर निकालना चाहा, लेकिन पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को संभाल लिया। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने बताया कि स्थिति नियंत्रण में है तथा आगजनी और सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के आरोप में 10-12 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। श्री गुरंग ने कहा कि राज्य सरकार की कथित दमनकारी कार्यप्रणाली के कारण गोरखालैंड टेरिटोरियल एडमिनिस्ट्रेशन (जीटीए) का क्रियान्वयन विफल रहा है। पृथक गोरखालैंड आंदोलन की अगुवाई के लिये उनके पास अन्य विकल्प नहीं हैं। जीजेएम ने दार्जिलिंग आये पर्यटकों से यह कहते हुये यहां से चले जाने को कहा है कि किसी दुर्भाग्यपूर्ण घटना के मामले में उनकी पार्टी की कोई जिम्मेदारी नहीं होगी। दूसरी तरफ बंद के मद्देनजर दार्जिलिंग में जिला कलेक्टर कार्यालय, राजस्व इमारत,अदालत के आसपास और सभी महत्वपूर्ण इलाकों में धारा 144 लागू कर दी गयी है। जिला कलेक्टर जॉयसी दासगुप्ता ने बताया कि फूलबाजार में अनुमंडलीय अधिकारी कार्यालय को जलाने का प्रयास किया गया तथा इसके अलावा क्षेत्र में स्थिति शांतिपूर्ण है। उन्होंने यह भी दावा किया कि सभी कार्यालयों में उपस्थिति अच्छी रही। सरकार ने अपने कर्मचारियों को अपनी ड्यूटी पर उपस्थित रहने की सलाह दी है और चेतावनी भी दी है कि अनुपस्थिति पर वेतन काटने के साथ ही उनके सर्विस रिकार्ड में भी टिप्पणी दर्ज की जायेगी। ट्राय ट्रेन की सेवा देने वाली दार्जिलिंग हिमालयीन रेलवे ने बंद के कारण अपनी सेवायें अनिश्चितकाल के लिये स्थगित कर दी हैं।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...