भारत-नार्वे अातंकवाद के विरुद्ध लड़ाई में करेंगे सहयोग

india-norway-terrorism-cooperation
ओस्लो, 04 जून, भारत और नॉर्वे संयुक्त राष्ट्र के अलावा कई अंतरराष्ट्रीय मंचों पर कई मुद्दों पर मिलजुकर काम करेंगे और आतंकवाद के विरुद्ध लड़ाई में भी एक दूसरे का सहयोग करेंगे। भारत के कृषि एवं किसान कल्याण तथा संसदीय कार्यराज्यमंत्री एस एस अहलूवालिया की नार्वे यात्रा के दौरान दोनों देशों ने यह संकल्प व्यक्त किया। कल शाम सम्पन्न इस तीन दिवसीय यात्रा में उनके साथ सांसदों का एक दस सदस्यीय शिष्टमंडल भी शामिल था। श्री अहलूवालिया अपनी इस यात्रा के दौरान नॉर्वे की वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री मोनिका मेलैंड और विदेशी मामलों की सचिव मैरिट बर्गर रोजलैंड और विदेशी नीति एवं रक्षा की स्थायी समिति की अध्यक्ष एनी केन व्हिफेल्ट तथा उद्योग एवं व्यापार स्थायी समिति के उपाध्यक्ष गुन्नार गुंडर्सन से मिले। श्री अहलूवालिया ने नॉर्वे के इन मंत्रियों और अधिकारियों से मुलाकात के दौरान कहा कि दोनों देशों को कृषि, जलवायु परिवर्तन, ऊर्जा एवं जलप्रबंधन तथा ऑर्गेनिक खेती के क्षेत्र में मिलजुलकर काम करना चाहिए और आतंकवाद के विरुद्ध लड़ाई में भी एक दूसरे का सहयोग करना चाहिए। उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र एवं अन्य अंतरराष्ट्रीय मंचों पर भी दोनों देशों को कई मुद्दों पर एक दूसरे का साथ देना चाहिए। श्री अहलूवालिया ने परमाणु आपूर्तिकर्ता देश समूह तथा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की दावेदारी के समर्थन के लिए नार्वे का आभार व्यक्त किया। नॉर्वे में भारत के राजदूत देवराज प्रधान ने भारतीय शिष्टमंडल के सम्मान में कल एक भोज का भी आयोजन किया। शिष्टमंडल में लोकसभा के सांसद भर्तृहरि महताब, चंद्रकांत खैर, रामकुमार वर्मा, मोहम्मद फैजल पदीपुर्रा आदि के अलावा संसदीय सचिव राजीव यादव भी थे।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...