भुखमरी रोधी भारतीय कार्यकर्ता को ब्रिटेन की महारानी से मिला पुरस्कार

indian-awarded-by-queen-in-uk-for-hunger
लंदन, 30 जून, भुखमरी रोधी कार्यकर्ता अंकित क्वात्रा को यहां बकिंघम पैलैस में एक समारोह में महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने वर्ष 2017 के लिए यंग लीडर्स अवार्ड दिया। भारत में भुखमरी और कुपोषण की समस्या को सुलझाने में असाधारण काम करने के लिए 25 वर्षीय क्वात्रा को कल देर रात महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने यह पुरस्कार दिया। क्वात्रा फीडिंग इंडिया के संस्थापक हैं। यह संगठन भारत में भुखमरी खत्म करने और शादी या किसी अन्य समारोह से बचे हुए भोजन को भूखे लोगों को खिलाने का काम करता है। क्वात्रा ने कहा, महारानी से बकिंघम पैलैस में यह पुरस्कार मिलना बड़ा सम्मान है , कुछ ऐसा , जिसका मैं सपना तक नहीं देख सकता था। मेरा मानना है कि यह दोनों देशों के लिए महत्वपूर्ण है खासतौर से तब जब ब्रिटेन और भारत का कई सारे मोर्चो पर साझा इतिहास है। उन्होंने कहा, बकिंघम पैलैस में एक भारतीय की मौजूदगी आज इस बात को दर्शाती है कि दोनों देश कितने लंबे रास्ते तय कर चुके हैं और एक बार फिर यह साबित हो गया कि अगर हम शांतिपूर्ण तरीके से साथ मिलकर काम करें तो हम कितना कुछ कर सकते हैं। वर्ष 2014 में महज पांच लोगों द्वारा शुरू किया गया फीडिंग इंडिया अभी 4500 स्वयंसेवकों के साथ 43 भारतीय शहरों में काम कर रहा है और वह अधिक मात्रा में बचे हुए भोजन को ले जाकर करीब 80 लाख लोगों की भूख मिटा रहा है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...