बनिया और जैन के बीच बैठ ‘दलित’ कोविंद ने किया नामांकन

भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्‍व वाले एनडीए की ओर से राष्‍ट्रपति उम्‍मीदवार रामनाथ कोविंद ने आज संसद भवन स्थित लोकसभा के महासचिव के कक्ष जाकर कर अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। श्री कोविंद की ओर से नामांकन पत्रों के चार सेट दाखिल किये गये। उन्‍होंने अपना नामांकन बिहार के वोटर के रूप में किया।





kovind-aply-for-president
भाजपा की ओर राष्‍ट्रपति पद के लिए बहुप्रचारित दलित उम्‍मीदवार रामनाथ कोविंद ने अपना नामांकन किया। रामनाथ कोविंद की दायीं ओर बनिया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जैन अमित शाह बायीं ओर बैठे थे। नामांकन की प्रक्रिया पूरी करने के बाद महासचिव कक्ष में उपस्थित सभी नेता बाहर निकले। इस दौरान भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, सूचना एवं प्रसारण मंत्री एम वेंकैया नायडु, संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार, कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह, सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, लोक जनशक्ति पार्टी के प्रमुख एवं केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान के साथ ही कई राज्यों के मुख्यमंत्री और राजग के घटकदलों के नेता तथा कुछ विपक्षी दलों के नेता भी उपस्थित थे।

उधर श्री कोविंद ने राष्ट्रपति पद को राजनीति से ऊपर करार देते हुये इस चुनाव के मतदाता मंडल के सदस्यों से उन्हें समर्थन देने की अपील की है। श्री कोविंद ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद संवाददाताओं को संबोधित करते हुये कहा कि 125 करोड़ की आबादी वाला भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है और इस लोकतंत्र में राष्ट्रपति का पद सबसे गरिमा पद है और वह इस सर्वोच्च पद की गरिमा बनाये रखने के लिए हर संभव प्रयास करेंगें।




साभार : बीरेंद्र यादव 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...