मधुबनी डीएम ने खजौली प्रखंड परिसर का किया निरीक्षण । निरीक्षण के दौरान कई कर्मचारी गायब।

madhubani dm inspection
मधुबनी (दिनेश सिंह) जिला पदाधिकारी,  शर्षित कपिल अषोक ने खजौली स्थित विभिन्न सरकारी कार्यालयों का किया औचक निरीक्षण । मधुबनी सदर अनुमंडल पदाधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थी। प्रखंड कार्यालय में निरीक्षण के दौरान नाजीर वीरेन्द्र कुमार सिंह, जितेंद्र कुमार , उर्दू अनुवादक अली अकबर , एवं  उमेष प्रसाद यादव, मिथिलेष कुमार, अमित कुमार अपने कार्यालय से अनुपस्थित थे। वहीँ प्रखंड पशुपालन पदाधिकारी के कार्यालय में कोई था ही नहीँ । खुरहा-मुँहपका रोग का टीका असुरिक्षित ढंग से जहाँ तहां रखा हुआ था। एसएफसी गोदाम के निरीक्षण के दौरान गोदाम में चावल का कुछ बोरा खुला हुआ था तथा चावल जमीन पर बिखरा हुआ था। गोदाम मैनेजर अनुपस्थित थे। बाल विकास परियोजना कार्यालय में एल.एस. विंध्नवासिनी कुमारी तथा प्रिया गुप्ता अनुपस्थित थी। आर.टी.पी.एस. कार्यालय में अभिलेख का संधारण ठीक ढंग से नहीं किया जा रहा था। मनरेगा कार्यालय में कनीय अभियंता संगीता कुमारी अनुपस्थित थी। डीएम ने सभी अनुपस्थित कर्मियों का आज का वेतन रोककर उनसे गायब रहने का स्पष्टीकरण पूछा जाएगा। बी.डी.ओ., सी.डी.पी.ओ. कार्यालय के पास महिला शौचालय का निर्माण शीध्र कराने का निर्देश जारी किया वहीँ सभी कार्यालयों को साफ-सुथरा तथा व्यवस्थित रखने को कहा गया ।


 जिला पदाधिकारी ने खजौली थाना का भी निरीक्षण किया तथा थाना में चारदिवारी, पुलिस बैरक की स्थिति ठीक करने का निर्देश दिया। उन्होंने वहाँ शांति समिति के सदस्यों को संबोधित भी किया तथा उनसे अनुरोध किया कि ईद पर्व तथा श्रावणी मेला के अवसर पर विधि व्यवस्था एवं शांति स्थापना में अपना सहयोग देने के लिये कहा । यदि कोई व्यक्ति सामाजिक विद्वेष फैलाकर विधि-व्यवस्था की समस्या उत्पन्न करेंगे तो उनके विरूद्व कड़ी  कार्रवाई की जाएगी।  जिला पदाधिकारी ने कमला बलान पश्चमी तटबंध के सुक्की स्थित कटाव स्थल तथा सुक्की साइफन का भी निरीक्षण किया। तटबंध के निरीक्षण के क्रम में बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल-2 के कार्यपालक अभियंता, झंझारपुर श्री मिथिलेष कुमार सिंह भी उपस्थित थे।   उन्होंने ने बताया कि बाढ पूर्व कटाव निरोधीकार्य पूरा किया जा चुका है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...