दुमका : कावरियों की सुविधा हेतु कावरिया रूट लाईनों पर इस वर्ष इन्द्र वर्षा का निर्णय लिया गया।

  • राजकीय श्रावणी मेला महोत्सव 2017 की तीसरी साप्ताहिक बैठक सम्पन्न 

meeting-for-kanwariya-dumkaदुमका (अमरेन्द्र सुमन) राजकीय श्रावणी मेला 2017 की तैयारियों की समीक्षा करते हुए दिन गुरुवार (01 जून 2017) को दुमका के डीसी राहुल कु0 सिन्हा ने साफ सफाई, पेयजल उपलब्धता, शौचालय व विद्युत व्यवस्था पर विशेष बल दिया। उन्होंने कहा समय कम है अतः विश्वप्रसिद्ध श्रावणी मेला की तैयारियों को विशेष गति दें। अध्यक्ष नगर पंचायत, बासुकिनाथ मंटू लाहा ने कहा कि श्रावणी मेला के दौरान सम्पूर्ण नगर पंचायत क्षेत्र में व्यापक साफ-सफाई व्यवस्था बनाये रखने हेतु कुल 60 सफाई कर्मियों की प्रतिनियुक्ति की जा रही है। डीसी ने सभी सफाई कर्मियों के लिये उनके कार्यक्षेत्र निर्धारित कर देने का निदेश दिया ताकि अव्यवस्था का माहौल क्रियेट न हो तथा सफाई कर्मी अपने-अपने कार्यक्षेत्र में अपनी जिम्मेवारी को समझते हुए कार्य करंे। डीसी श्री सिन्हा ने मेला के दौरान अतिरिक्त सफाई कर्मियों की आवश्यकता पर बल देते हुए कहा कि सफाई व्यवस्था दुरुस्त होनी चाहिए। मेला परिसर, कावरिया रूट लाईनों व शिवगंगा के आसपास के स्थलों पर गंदगी नहीं रखने का सख्त निर्देश कार्यपालक पदाधिकारी, नगर पंचायत को दिया गया। नगर पंचायत क्षेत्र में प्रकाश, पेयजल की समुचित व्यवस्था व मंदिर परिसर के इर्द-गिर्द सड़कों के किनारे स्टोन डस्ट बिछाकर प्लेन करने का भी निदेश डीसी श्री सिन्हा ने दिया। इस वर्ष पार्वती मंदिर में भी स्टील की बेरीकेडिंग हो ऐसा निर्देश प्रखंड विकास पदाधिकारी, जरमुण्डी को दिया गया। विदित हो, श्रावणी मेला के दौरान पार्वती मंदिर के बाहर भी श्रद्धालुओं की अत्यधिक भीड़ जमा होने पर अफरा-तफरी की स्थिति बनी रहती है। डीसी ने कहा कावरियों की सुविधा हेतु कावरिया रूट लाईनों पर इस वर्ष इन्द्र वर्षा का निर्णय लिया गया है। पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के कार्यपालक अभियंता को अविलंब कार्य कराने का निदेश एतद् दिया गया। कावरिया पथों में पेयजल की समुचित व्यवस्था व प्रत्येक विश्राम स्थल पर निर्मित  पण्डालों के इर्द-गिर्द तकरीबन 10 से 15 की संख्या में अस्थायी शौचालय निर्माण का निर्देश दिया गया। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए डीसी श्री सिन्हा ने में एएनएम की कमी को तुरंत पूरा करने का निदेश दिया। एएनएम की कमी के कारण मेला कार्य प्रभावित नहीं हो इसके लिए अगले एक माह के अन्दर एएनएम के रिक्त पदों पर नियुक्ति हेतु अविलंब आवश्यक तैयारी करने का निदेश डीसी श्री सिन्हा ने सिविल सर्जन, दुमका को दिया। बाबा बासुकिनाथ मंदिर का व्यापक प्रचार-प्रसार हो इसके लिए सुलतानगंज से बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर तक के विभिन्न पथों पर अधिक से अधिक संख्या में पोस्टर-बैनर लगवाने का निर्देश जनसम्पर्क विभाग को दिया। विद्युत कार्यपालक अभियंता को मोतीहारा-बासुकिनाथ पथ पर प्रकाश व्यवस्था हेतु नये पोल लगवाकर तार बिछवाने का निर्देश दिया गया। श्रावणी मेंला के दौरान निर्बाध बिजली आपूर्ति पर डीसी ने विशेष बल दिया। जरमुण्डी विधायक बादल पत्रलेख के अनुरोध पर पथसारा से रेलवे क्रोसिंग पथ व दर्शनिया टीकर मार्ग को एक माह के अन्दर दुरूस्त करने का निदेश पथ निर्माण विभाग को दिया गया।  शिवगंगा के समीप बन रहे जलार्पण काउण्टर का निर्माण कार्य का भी निरीक्षण भी डीसी श्री सिन्हा ने किया। विशेष प्रमंडल के अभियंता ने जानकारी देते हुए कहा कि जलार्पण काउण्टर का पानी एक जगह एकत्रित कर पंप के माध्यम से सीधे गर्भगृह में भेजने की व्यवस्था की जा रही है। इसमें चढाये जाने वाले पुष्प, विल्वपत्र आदि पूजन सामग्री को भी एकत्रित करने का अलग स्थान बनाया जा रहा है। निर्माण कार्य को मेला प्रारंभ होने के पूर्व पूर्ण कराने का निदेश पदाधिकारियों व कर्मियों को दिया गया। मालूम हो,  इसके निर्माण से न केवल मंदिर परिसर में भीड़ का दबाव घटेगा अपितु विकलांग, वृद्ध, अक्षम श्रद्धालुगण आसानी से बाबा पर जलाभिषेक कर सकेंगे। बैठक में जरमुण्डी विधायक बादल पत्रलेख, अनुमंडल पदाधिकारी, दुमका जयप्रकाश झा, अध्यक्ष, नगर पंचायत मंटू लाहा, बासुकिनाथ, मंदिर न्यास समिति के सदस्यगणों सहित सभी संबंधित विभाग के पदाधिकारीगण मौजूद थे।  

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...