राजग उम्मीदवार घोषित ,आम सहमति के आसार कम

ram-nath-kovind-declared-presidential-candidate
नयी दिल्ली 19 जून, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आज बिहार के राज्यपाल राम नाथ कोविंद को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित कर दिया लेकिन विपक्ष के रुख को देखते हुये उनके नाम पर आम सहमति बनने के आसार नजर नहीं आ रहे हैं। केन्द्र में तीन वर्ष पहले स्पष्ट बहुमत के साथ सरकार बनाने वाली भाजपा ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की पृष्ठभूमि वाले दलित नेता श्री कोविंद को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की ओर से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया और कांग्रेस सहित सभी दलोें से उनका समर्थन करने की अपील की। भाजपा के संसदीय बोर्ड की आज हुयी बैठक में श्री कोविंद के नाम पर मुहर लगायी गयी। इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौजूद थे। इस बीच श्री कोविंद आज शाम पटना से राजधानी पहुंच गये हैं। उनके 23 जून को नामांकन पत्र दाखिल करने की संभावना है। राष्ट्रपति के उम्मीदवार पर आम सहमति बनाने को लेकर भाजपा नेता पिछले कुछ दिनों से विभिन्न दलों से लगातार बातचीत कर रहे थे लेकिन किसी को भी श्री कोविंद के नाम की भनक तक नहीं लगी। यहां तक कि मीडिया में उम्मीदवार को लेकर जो नाम चल रहे थे उनमें उनके नाम का कभी कोई जिक्र नहीं हुआ। श्री कोविंद के नाम का फैसला होते ही श्री मोदी् , श्री शाह और पार्टी के अन्य नेताओं ने दूसरे दलों के नेताओं से संपर्क साधा और समर्थन का अनुरोध किया । श्री मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मन मोहन सिंह से बात की तो श्री शाह ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को उम्मीदवार के बारे में जानकारी दी। भाजपा की पुरानी सहयोगी शिवसेना ने फिलहाल श्री कोविंद के नाम पर हामी नहीं भरी है । उसने एक दो दिन में अपना निर्णय देने की बात कही है। वहीं तेलंगाना राष्ट्र समिति और तेलुुगु देशम ने श्री कोविंद के समर्थन की घोषणा कर दी है। बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने कहा कि दलित होने के नाते उनकी पार्टी श्री कोविंद का समर्थन करेगी बशर्ते विपक्ष की ओर से कोई अन्य लोकप्रिय दलित नेता उम्मीदवार न बना दिया जाये ।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...