मधुबनी : ये चीचरी (राजनगर) का स्कूल

school-in-madhubani
मधुबनी , दिनेश सिंह - राजनगर प्रखंड अन्तर्गत चिचरी पंचयात के सहसपुर गाँव की प्राथमिक स्कूल का यह दृश्य देख कर आप स्वयं आकलन कर सकते है कि, बिहार में शिक्षा की क्या स्थिति है । आज बिहार के टॉपर की फजीहत देख रहे है, बिहार की शिक्षा की पोल खोल रही है ये टॉपर । सरकार गुणवत्ता युक्त शिक्षा की बात करती है, जहाँ विद्यार्थी को बैठने की व्यवस्था न हो, एक ही कमरा में एमडीएम का चावल, उसी जगह जलावन और जैसे तैसे विद्यार्थी बैठे है, यहाँ तक कि बच्चे पेड़ के नीचे बैठने के लिए मजबूर है , और तो और खुले आसमान में पन्नी लगा कर बच्चो के लिये भोजन बनता है। शिक्षक ने बताया गया कि विद्यालय में नामांकित बच्चे 160 है, स्कुल के पास अपना भवन नही होने के कारण एक सामुदायिक भवन में वर्ग चलाया जाता है । इस विद्यालय में गरीब तथा महादलित के बच्चे है। इससे आप स्वयं देखे की महादलित बच्चे गरीब के लिए सरकार कितनी संजीदा है। बिहार सरकार की शिक्षा नीति पर सवाल खड़ा कर रही है ये चीचरी की स्कूल ॥

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...