सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 14 जून

गरीबों को मिलेंगे अब मुफ्त वकील

उच्च न्यायालय मुख्य पीठ जबलपुर एवं भारत सरकार विधि और न्याय मंत्रालय न्याय विभाग नईदिल्ली द्वारा प्रो-बोनो लीगल सर्विसेज नामक ऑनलाइन वेबसाइट लाँच की है, जिसमें समाज के आर्थिक रूप से कमजोर व्यक्तियों को निःशुल्क पैरवी करने के लिये वकील ऑनलाइन मिल सकेंगे। ऑनलाइन आवेदन http://www.doj.gov.in में प्रस्तुत किये जा सकेंगे। इस पोर्टल के माध्यम से विधिक सेवा प्राधिकरण अधिनियम, 1987 के अंतर्गत परिभाषित व्यक्तियों को विधिक सहायता व सलाह प्रो बोनो लायर्स द्वारा दी जा सकेगी।

आज से प्रारंभ होगा दस्तक अभियान, 15 जून से 15 जुलाई तक संचालित होगा अभियान

sehore news
जिले में दस्तक अभियान का संचालन 15 जून से 15 जुलाई,2017 तक किया जाएगा। जिले के समस्त ब्लाॅक एवं ग्रामों में एक माह तक संचालित होेने वाले दस्तक अभियान में ए.एन.एम.आषा एवं आंगनबाडी कार्यकर्ताओं को घर-घर दस्तक देकर विभिन्न गतिविधियों का समन्वय बनाकर आयोजित किए जाने के निर्देष जिला कलेक्टर एवं अध्यक्ष जिला स्वास्थ्य समिति डाॅ.सुदाम खाडे़ ने दिए है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान के मंषाुरूप विषेष रूप से ग्राम स्तर पर संचालित दस्तक अभियान में 05 वर्ष से कम उम्र के गंभीर कुपोषित बच्चंों की सक्रिय रूप से पहचान कर उनका प्रबंधन किया जाएगा वहीं 06 माह से 05 वर्ष तक के बच्चों में गंभीर एनीमिया की सक्रिय स्क्रीनिंग कर उनका प्रबंधन किया जाएगा। अभियान के दौरान 09 माह से 05 वर्ष तक समस्त बच्चों का विटामिन ए अनुपूरण दी जाएगी तथा 5 वर्ष तक के बच्चों में बाल्यकालीन निमोनिया की त्वरित पहचान, प्रबंधन एवं रेफरल किया जाएगा। बच्चों में दिखाई देने वाली जन्मजात विकृतियों की पहचान कर उनके उपचार की उचित व्यवस्था की जाएगी। इस संबंध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास तथा जिला षिक्षा अधिकारी,जिला टीकाकरण अधिकारी एवं जिला स्वास्थ्य अधिकारी को समन्वय बनाकर अभियान की सफलता के लिए निर्देषानुसार कार्य करने के सख्त निर्देष कलेक्टर द्वारा दिए गए है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.आर.के.गुप्ता ने बताया कि 15 जून से निरंतर एक माह तक संचालित होने वाले दस्तक अभियान में आषा,एएनएम घर-घर दस्तक देकर 05 साल तक के बच्चों की पहचान कर निर्धारित प्रपत्र में जानकारी भरकर दस्त प्रबंधन के लिए ओ.आर.एस.के पैकेट भी घर-घर वितरित करेगी। डाॅ.गुप्ता ने बताया कि कलेक्टर के निर्देषानुसार 05 वर्ष तक बच्चों में बाल्यकालीन निमोनियां की त्वरित पहचान कर प्रबंधन एवं रेफरल की व्यवस्था की जाएगी इस संबंध में सभी जरूरी दिषा निर्देष समस्त बीएमओ को जारी कर दिए गए है। 05 साल से कम उम्र के बच्चों में बाल्यकालीन दस्त रोग के नियंत्रण हेतु ओआरएस के उपयोग संबंधी सामुदायिक जागरूकता में बढ़ावा एवं प्रत्येक घर में गृहभंेट के दौरान ओआरएस पहंुचाना पहली प्राथमिकता होगी। एसएनसीयू एवं एनआरसी से छुट्टी प्राप्त बच्चों में बीमारी की स्क्रीनिंग एवं फाॅलोअप को दस्तक अभियान के दौरान प्रोत्साहन दिया जाएगा। नमक में आयोाडीन पर्याप्तता की जांच एवं आयोडीन की अल्पता से बच्चोें में होने वाले विकारों के संबंध में सामुदायिक जागरूकता के संबंध में अभियान संचालित किया जाएगा। दस्तक अभियान में स्तनपान को भी प्रमुखता से जोड़ा गया है जिसके अंतर्गत आषा एवं एएनएम घर-घर जाकर षिषु एवं बाल आहारपूर्ति संबंधी समझाईष समुदाय को देगी एवं स्तनपान संबंधी भ्रांतियों में कमी हेतु सामुदाय में जागरूकता लाने के लिए उचित सलाह एवं समझाईष देगी। सीएमएचओ डाॅ.गुप्ता ने बताया कि जिले के 1138 ग्रामों में दस्तक अभियान का संचालन किया जाएगा। करीब 215 उप स्वास्थ्य केन्द्रांे एवं शहरी वार्डों में भी अभियान का सघन संचालन किया जाएगा। जिले में अभियान की सफलता के लिए कलेक्टर के निर्देष पर कुल 286 दलों का गठन किया गया है जिसमें आष्टा में 59 दल, बुदनी 51, नसरूल्लागंज में 47, ष्यामपुर 39, सीहोर शहरी क्षेत्र 14 तथा आष्टा शहरी क्षेत्र के लिए 11 दलों का प्रमुखता से गठन कर उन्हें अभियान के सफलता की व्यापक जवाबदारी एवं जिम्मेदारी सौंपी गई है। अभियान की सघन माॅनिटरिंग के लिए ब्लाॅक एवं जिला स्तर से जिम्मेदार अधिकारियों की ड्यूटी भी लगाई गई है। प्रतिदिन की लक्ष्य एवं उपलब्धि से राज्य कार्यालय को आॅन लाईन रिपोर्ट के माध्यम से अवगत कराया जाएगां वहीं सघन माॅनीटरिंग के लिए राज्य ंस्तर से भी स्वास्थ्य विभाग, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिषन के आला अधिकारी एवं गैर शासकीय संगठनों के प्रतिनिधि जिले में ग्राम स्तर पर भ्रमण कर अभियान की जमीनी हकीकत से राज्य एवं जिला स्तर पर अधिकारियों को प्रतिदिन अवगत कराएंगे। सीहोर में दस्तक अभियान का विधिवत शुभारंभ 15 जून,2017 को प्रातः 10 बजे किया जाएगा। इस दौरान अभियान के लिए दस्तक कीट का वितरण भी एएनएम को किया जाएगा। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...