वर्तमान हालात में सात से आठ फीसदी विकास दर वाजिब है: जेटली

seven-to-eight-percent-growth-rate-is-reasonable-in-current-situation-jaitley
नयी दिल्ली 01 जून, वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज कहा कि नोटबंदी से आर्थिक विकास प्रभावित नहीं हआ है और वर्तमान वैश्विक हालात के मद्देनजर सात से आठ फीसदी की विकास दर एकदम वाजिब है, श्री जेटली ने यहां अपने मंत्रालय के तीन वर्ष की उपलब्धियों पर संवाददाताओं से चर्चा में कहा कि सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) निर्धारण के कई कारक होते हैं और किसी एक कारक को इसके लिए जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2016-17 के प्रारंभ में आर्थिक गतिविधियाें प्रभावित हुयी थी। उल्लेखनीय है कि केन्द्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने कल जीडीपी के आंकड़े जारी किये जिसमें वर्ष 2016-17 में आर्थिक विकास दर 7.1 प्रतिशत रही और नोटबंदी के बाद जनवरी -मार्च तिमाही में यह 6.1 प्रतिशत रही। इस पर श्री जेटली ने कहा कि नोटबंदी के कारण आर्थिक विकास दर प्रभावित नहीं हुयी है क्योंकि नोटबंदी से पहले विकास प्रभावित होने के कई कारक थे। उन्होंने कहा कि नोटबंदी से अर्थव्यवस्था के लिए एक नये नार्मल का निर्माण हुआ है और यह समानांतर अर्थव्यवस्था को समाप्त के लिए बहुत प्रभावी साबित हुआ है। इससे तीन प्रमुख लाभ हुये हैं जिनमें डिजिटल अर्थव्यवस्था को निर्माण शुरू हुआ ह। करदाता आधार बढ़ा है और राजस्व में बढोतरी हुयी है। इसके साथ लोगों को यह पता चल गया है कि नकद लेनदेन अब सुरक्षित नहीं है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2014-15 में राजस्व संग्रह में जहां 9.8 प्रतिशत की वृद्धि हुयी थी वहीं वर्ष 2015-16 में यह बढ़कर 17 प्रतिशत और इस वर्ष मार्च में समाप्त वित्त वर्ष में यह 18 फीसदी पर पहुंच गया है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...