विख्यात तेलुगू कवि, लेखक सी नारायण रेड्डी का निधन

telugu-writer-narayan-reddy-no-more
हैदराबाद, 12 जून, प्रतिष्ठित ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित प्रख्यात तेलुगू कवि और लेखक सी नारायण रेड्डी का आज तड़के यहां निधन हो गया। तेलुगू भाषा के वरिष्ठ साहित्यकार 85 वर्षीय रेड्डी की 80 से अधिक पुस्तकों का प्रकाशन हो चुका है जिनमें कविता, गीत, गीतात्मक नाटक, नृत्य, निबंध, यात्रा वृतांत, पारंपरिक और गजल, और साहित्यिक आलोचना शामिल है। सूत्रों ने बताया, ेदेर रात हुई स्वास्थ्य समस्या के बाद उन्हें तड़के करीब तीन बजे एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। उन्होंने बताया कि उनके परिवार में चार बेटियां हैं। 29 जुलाई 1931 को करीमनगर जिले में जन्में प्रख्यात लेखक और गीतकार अपनी पीढ़ी के सबसे प्रतिष्ठित तेलुगू कवि थे। वह तेलंगाना सारस्वत परिषद के अध्यक्ष भी थे। उन्हें 1988 में ज्ञानपीठ पुरस्कार मिला था। उन्हें 1977 में पद्म श्री और 1992 में पद्म भूषण सम्मान से सम्मानित किया गया था। उनकी रचनाओं को एक नई परंपरा की शुरूआत करने वाली रचनाओं के रूप में देखा जाता है। आधुनिक तेलुगू कविता पर परंपरा और प्रभाव का आकलन करने के लिए उन्होंने शोध किया था । उन्होंने करीब 3,500 फिल्मी गीत भी लिखे । तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने रेड्डी के निधन पर शोक व्यक्त किया है। महाराष्ट और तमिलनाडु के राज्यपाल सी विद्यासागर राव ने भी रेड्डी के निधन पर दुख व्यक्त किया है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...