विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 05 जून

अनेक अधिकारियों को शोकाॅज नोटिस

कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने आज लंबित आवेदनों की समीक्षा की। बैठक में लगातार अनुपस्थित रहने पर विदिशा कृषि उपज मंडी के सचिव श्री राकेश अग्रवाल की दो वेतन वृद्वि रोकने का शोकाॅज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए है। नक्शा तरमीन कार्यो में अपेक्षित प्रगति परलिक्षित नही होने पर कलेक्टर श्री सुचारी ने ग्यारसपुर, कुरवाई, सिरोंज, लटेरी, शमशाबाद, त्योंदा और पठारी के तहसीलदारों को कारण बताआंे पत्र जारी करने के भी निर्देश इस दौरान दिए है। ज्ञातव्य हो कि पूर्व उल्लेखित तहसीलों में पचास प्रतिशत से भी कम कार्य किया गया है। इसी प्रकार सभी बीआरसी को भी शोकाॅज नोटिस देने के निर्देश कलेक्टर द्वारा दिए गए है। बीआरसी के द्वारा आरटीई के तहत आॅन लाइन आवेदन दर्ज कराने के लिए जिले की अशासकीय विद्यालयों में 11 हजार बच्चों का दाखिला कराया जाना था किन्तु सभी बीआरसी के द्वार करीब 17 हजार बच्चों का पंजीयन आॅन लाइन किया गया है जो 25 प्रतिशत से भी अधिक है। उक्त कार्य में लापरवाही बरतने पर जिले के सभी बीआरसी को शोकाॅज नोटिस जारी किए जा रहे है। लटेरी जनपद सीईओ के द्वारा मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के 11 प्रकरणोें में हितग्राहियों को राशि जारी नही करने पर जनपद सीईओ को भी चेतावनी पत्र जारी करने के निर्देश दिए गए है। कलेक्टर श्री सुचारी ने श्रम विभाग के अधिकारी को निर्देश दिए कि कर्मकार मंडल के तहत जिन छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदाय की जानी है के प्रकरण लंबित ना रखें। इस दौरान बताया गया कि नौ हजार 572 छात्रों के बैंक खातों की त्रुटियों को सुधार किया गया है। सिरोंज में बनने वाला वेद विद्यालय के निर्माण कार्य हेतु दो करोड़ रूपए का प्रोजेक्ट तैयार कर शासन को प्रेषित किया गया है। स्पर्श अभियान के तहत छह सौ चार दिव्यांगांे का परीक्षण किया गया है जिसमें से 94 आपरेशन हेतु योग्य पाए गए है। कलेक्टर श्री सुचारी ने शून्य से पांच वर्ष तक के बच्चों का आधार कार्ड बनाए जाने हेतु जिले में क्रियान्वित अभियान की भी इस दौरान समीक्षा की। उन्होंने एकीकृत बाल विकास सेवाएं के प्रभारी जिला कार्यक्रम अधिकारी को निर्देश दिए कि आधार कार्ड पंजीयन जैसे महत्वपूर्ण कार्य में जिन सीडीपीईओ और सुपरवाईजरों के द्वारा लापरवाही बरती जा रही है उन सबके खिलाफ कार्यवाही का प्रस्ताव तैयार कर प्रस्तुत करंे। कलेक्टर श्री सुचारी ने बताया कि अब धारा 40 के अधिकार जिला पंचायत सीईओ को सौंपे गए है अतः ऐसे पंचायत प्रतिनिधि एवं सचिव जिनके द्वारा निर्माण कार्यो की राशि का आहरण किया जा चुका है और कार्य पूर्ण नही कराया गया है उन सबके खिलाफ धारा 40 के तहत कार्यवाही के लिए जनपदों के सीईओ प्रस्ताव प्रेषित करें। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि सेवानिवृत्त अधिकारी, कर्मचारी जिनके पेंशन प्रकरण स्वीकृति हेतु उनके विभागाध्यक्ष को प्रेषित किए गए है और अब तक स्वीकृत प्राप्त नही हुई है उन सभी 22 प्रकरणों में अद्र्वशासकीय पत्र विभागाध्यक्षों को प्रेषित करने के निर्देश जिला पेंशन अधिकारी को दिए। बैठक में श्रम, कृषि, खनिज, आधार कार्ड, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, स्वास्थ्य विभाग, ऊर्जा विभाग के लंबित आवेदनों पर गहन समीक्षा की गई। इसके अलावा बैठक में जाति प्रमाण पत्र, सार्वजनिक वितरण प्रणाली की अद्यतन प्रगति की भी समीक्षा की गई। वही वरिष्ठ कार्यालयों के साथ-साथ मानव अधिकार आयोग, पीजी सेल, समाधान आॅन लाइन और जन शिकायत निवारण के प्राप्त आवेदनों और पेपर कंटिग पर अब तक संबंधित विभागों के अधिकारियों द्वारा की गई कार्यवाहियों की बिन्दुवार जानकारियां प्रस्तुत की गई। कलेक्टेªट के सभाकक्ष में हुई इस बैठक में अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा, डिप्टी कलेक्टर श्री एके मांझी के अलावा समस्त विभागों के जिलाधिकारी मौजूद थे।


पेड़ लगाओं यात्रा का शुभांरभ

vidisha news
विश्व पर्यावरण दिवस पर आज जिला मुख्यालय पर आयोजित कार्यक्रमों में विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर, कलेक्टर श्री अनिल सुचारी शामिल हुए। उत्कृष्ट विद्यालय परिसर में जन अभियान परिषद के माध्यम से क्रियान्वित पेड़ लगाआंे यात्रा रथ को विधायक और कलेक्टर ने संयुक्त रूप से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।इसके पश्चात् रैली उत्कृष्ट विद्यालय से होती हुई नीमताल चैराहा तक विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर, कलेक्टर श्री अनिल सुचारी, एसडीएम श्री आरपी अहिरवार समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी और गणमान्य नागरिकों ने सहभागिता निभाई। रैली में शामिल सभी के हाथो में तख्तियां थी जिन पर संदेश पढे़ जा सकते थे जो मुख्यतः पेड़ो की महत्वता को रेखांकित कर रहे थे। जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान में भी विश्व पर्यावरण दिवस पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया था जिसमें कलेक्टर श्री अनिल सुचारी के अलावा एसडीएम श्री आरपी अहिरवार, जिला शिक्षा अधिकारी, डीपीसी एवं संस्था की प्राचार्य श्रीमती शशि सक्सेना मौजूद थी। कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने कहा कि पेड़ जीवन भर मानव को देने का कार्य करते हैै। पेडो की हर चीज अति महत्वपूर्ण है। उनके ऊपर ही पर्यावरण का संतुलन है। हम शुद्व हवा भी पेडो के कारण प्राप्त होती है अतः हम सबका नैतिक दायित्व है कि हम पेड़ो की रक्षा के लिए आगे आए और नए पौधे जीवन में जरूर रोपित करंे। इन्डक्शन प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे प्रशिक्षणार्थियों और एवं डीएलएड के नियमित विद्यार्थियों को मुख्य वक्ता एवं मुक्ति धाम सेवा समिति के सचिव श्री मनोज पांडे ने भी पर्यावरण के प्रति चिन्ता जाहिर करते हुए शिक्षको से आव्हान किया कि वे अपने पदांकित ग्राम में पर्यावरण बचाने के कार्य में आगे आएं।

मतदाता सूचियों का पुनरीक्षण कार्यक्रम

vidisha news
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अनिल सुचारी के द्वारा जिले की कृषि उपज मंडी समितियों की मतदाता सूचियों का पुनरीक्षण कार्यक्रम वर्ष 2017-18 के लिए जारी कर दिया गया है। इसी प्रकार रजिस्ट्रीकरण एवं सहायक रजिस्ट्रीकरण और अपीलीय अधिकारी भी उनके द्वारा नियुक्त किए जा चुके है। मंडियों की मतदाता सूची के पुनरीक्षण कार्यक्रम अनुसार आज पांच जून को रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों द्वारा मतदाता सूची का प्रारंभिक प्रकाशन किया गया है। इसके उपरांत आज ही से दावे आपत्तियां प्राप्त करने का कार्य शुरू हो गया है। दावे आपत्तियां प्राप्त करने की अंतिम तारीख 12 जून नियत की गई है। प्राप्त दावे आपत्तियों का निराकरण 14 जून की प्रातः साढे दस बजे से किया जाएगा। रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों द्वारा सचिव कृषि उपज मंडी समिति के माध्यम से मतदाता सूचियों का मुद्रण कार्य 24 जून को किया जाएगा। इसी दिन मतदाता सूची की एक प्रति जिला कार्यालय को उपलब्ध कराई जाएगी। मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन तीस जून को किया जाएगा।कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सुचारी के द्वारा जिले की सभी सातो कृषि उपज मंडी समितियों के लिए संबंधित क्षेत्र के तहसीलदार को रजिस्ट्रीकरण अधिकारी, नायब तहसीलदार को सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी का दायित्व सौंपा गया है जबकि संबंधित अनुविभागीय राजस्व अधिकारी अपीलीय अधिकारी होंगे।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...