विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 12 जून

टीकाकरण का डाटा आॅन लाइन दर्ज करें, शोकाॅज नोटिस देने के निर्देश 

vidisha news
कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने आज लंबित आवेदनों की समीक्षा की। उन्होंने जिले में जारी मिशन इन्द्रधनुष अभियान की प्रगति का भी जायजा लिया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को कलेक्टर ने निर्देश दिए कि टीकाकरण से एक भी बच्चा वंचित ना रहें। टीकाकरण कार्यो का डाटा हर रोज आॅन लाइन दर्ज कराने की भी कार्यवाही साथ-साथ क्रियान्वित की जाए। कलेक्टर श्री सुचारी ने टीएल बैठक में लगातार अनुपस्थित रहने पर जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी श्री सुनील पाठक को शोकाॅज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए है।मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के आवेदनों की समीक्षा करते हुए कलेक्टर श्री सुचारी ने जिलाधिकारियांे से कहा कि जबाव समाधानकारक अंकित करें। शिकायतकर्ता को पूर्ण संतुष्ट होने पर ही शिकायत निराकृत मानी जाएगी। उन्होंने कहा कि मांग संबंधी शिकायतें प्राप्त होती है तो विभागों के अधिकारी सीधे मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के टोल फ्री नम्बर पर सम्पर्क कर उन्हें अवगत कराए कि उक्त शिकायत मांग से संबंधित है ताकि वह शिकायत मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में शामिल ना हो सकें। कलेक्टर श्री सुचारी ने जिला श्रमपदाधिकारी को निर्देश दिए कि श्रम विभाग के माध्यम से मजदूरों के बच्चों को दी जाने वाली छात्रवृत्ति बच्चों को समय पर मिल सकें। इसके लिए आवंटन जनपदों और निकायों को मांग के आधार पर शीघ्र जारी करने की कार्यवाही क्रियान्वित करंे। उन्होंने जनपदों और निकायों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि गतवर्ष प्राप्त छात्रवृत्ति की राशि का उपयोगिता प्रमाण पत्र आगामी बैठक मंे अनिवार्यतः साथ में लाएं। कलेक्टर श्री सुचारी ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्री को निर्देश दिए कि ग्रीष्मकाल के दौरान किन स्थलों पर नवीन हेण्ड पंप विभाग के माध्यम से खनन कराए गए है कि सूची उपलब्ध कराएं। कार्यपालन यंत्री ने बताया कि विभाग को सौ हेण्ड पंप खनन का लक्ष्य प्राप्त हुआ था। डीपीसी ने बताया कि धारा-92 के तहत 102 प्रकरण पंजीबद्ध किए गए है और संबंधितों को नोटिस जारी किया गया है। गतवर्ष की 12 साइकिलें छात्रों को वितरण अभी तक नही की जा सकी है पर कलेक्टर ने असंतोष जाहिर करते हुए निर्देश दिए कि तीन दिवस के भीतर संबंधित छात्रों को साइकिल प्रदान करने की कार्यवाही क्रियान्वित की जाए। इसी प्रकार उच्च शिक्षा विभाग के माध्यम से वितरित किए जाने वाले मोबाइल फोन की भी जानकारी कलेक्टर द्वारा प्राप्त की गई। नोड्ल अधिकारी द्वारा बताया गया कि 650 मोबाइल अभी भी वितरण नही किए जा सकें है। ततसंबंध में कलेक्टर ने संबंधित महाविद्यालय के प्राचार्यो को चेतावनी पत्र जारी करने के निर्देश देते हुए कहा कि वितरण की कार्यवाही शीघ्र की जाए। बैठक में श्रम, कृषि, खनिज, आधार कार्ड, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, स्वास्थ्य विभाग, ऊर्जा विभाग के लंबित आवेदनों पर गहन समीक्षा की गई। इसके अलावा बैठक में जाति प्रमाण पत्र, सार्वजनिक वितरण प्रणाली की अद्यतन प्रगति की भी समीक्षा की गई। वही वरिष्ठ कार्यालयों के साथ-साथ मानव अधिकार आयोग, पीजी सेल, समाधान आॅन लाइन और जन शिकायत निवारण के प्राप्त आवेदनों और पेपर कंटिग पर अब तक संबंधित विभागों के अधिकारियों द्वारा की गई कार्यवाहियों की बिन्दुवार जानकारियां प्रस्तुत की गई। कलेक्टेªट के सभाकक्ष में हुई इस बैठक में अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा, डिप्टी कलेक्टर श्री एके मांझी के अलावा समस्त विभागों के जिलाधिकारी मौजूद थे। 


मानोरा मेला तैयारियों की समीक्षा बैठक बुधवार को

मानोरा में 24 जून से आयोजित होने वाले भगवान श्री जगदीश स्वामी मेला की तैयारियों की समीक्षा कलेक्टर श्री अनिल सुचारी के द्वारा 14 जून बुधवार को मानोरा के सामुदायिक भवन में की जाएगी। उक्त बैठक दोपहर 12 बजे से प्रारंभ होगी। मेला के नोड्ल अधिकारी एवं ग्यारसपुर एसडीएम श्री मनोज कुमार वर्मा ने बताया कि समीक्षा बैठक में तैयारियों को अंतिम रूप दिया जाएगा। उन्होंने संबंधित विभागों के अधिकारियों से समुचित जानकारियों सहित बैठक में समय पर उपस्थित होने की बात कही है।

जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक 14 को 

कलेक्टर श्री अनिल सुचारी की अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक बुधवार 14 जून को आयोजित की गई है यह बैठक कलेक्टेªट के सभाकक्ष में पूर्वान्ह 11 बजे से प्रारंभ होगी। समिति की सचिव एवं जिला परिवहन अधिकारी ने बैठक मंें शामिल एजेण्डा बिन्दुओ की जानकारी देते हुए बताया कि गत बैठक में लिए गए निर्णयों पर हुई कार्यवाही का वाचन के उपरांत इस बैठक में शामिल एजेण्डा मुख्यतः स्कूल वाहनों के संबंध में न्यायालय द्वारा जारी आदेशों का पालन चालक, परिचालक कल्याण योजना का प्रचार-प्रसार एवं लाभ प्रदान करने, आटो रिक्शा का किराया निर्धारण, टेªक्टर-ट्रालियोे, डम्फर आदि वाहनों में रिफलेक्टर लगाने, नियम विरूद्व बेतरकीब पार्किंग का नियंत्रण, बाजार एवं शहर के अन्य महत्वपूर्ण स्थानों पर अतिक्रमण एवं हाथ ठेलों आदि से हो रहे मार्ग अवरोध पर चर्चा के अलावा शहर में घूम रहे आवारा पशुओं पर नियंत्रण, बायपास रोड़ के निर्माण कार्य पर चर्चा, प्रेशर हार्न, बिना पंजीयन, मोटर साइकिलो में दो से अधिक सवारी, बिना नम्बर प्लेट वाले वाहनो पर नियंत्रण एवं रोकथाम, नदी नालों पर निर्माणाधीन सड़कोें पर संकेतक चिन्ह लगाने, सड़कों पर सुधार एवं पेंचवर्क शीघ्र कराने, खतरनाक एवं परिसंकट मय मालवहन करने वाले वाहनो के विरूद्व कार्यवाही इत्यादि शामिल है। 

घायलों को आर्थिक मदद जारी

कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने सड़क दुर्घटना में घायलों के लिए आर्थिक मदद स्वीकृति के आदेश जारी कर दिए है। जारी आदेश में उल्लेख है कि विगत दिनों बासौदा तहसील के ग्राम घटेरा उदयपुर में सड़क दुर्घटना में गंभीर घायलों को क्रमशः साढे सात-साढे सात हजार रूपए की आर्थिक मदद जारी की गई है। ग्राम उदयपुर के जिन हितग्राहियों को आर्थिक मदद जारी की गई है उनमें श्री मिट्ठू अहिरवार, श्री प्रताप, श्री तखत सिंह, श्री उदय सिंह, श्री फूल मोहम्मद और फिरोज खां शामिल है।

दलहन फसलों का समर्थन मूल्य जारी

राज्य सरकार द्वारा दलहन फसलों के उपार्जन कार्य हेतु समर्थन मूल्य जारी किया गया है कि जानकारी देते हुए जिला आपूर्ति अधिकारी श्री मोहन मारू ने बताया कि जिले में समर्थन मूल्य पर मूंग खरीदी कार्य विदिशा और बासौदा की कृषि उपज मंडी मंे किया जाएगा। मंूग 5225 रूपए प्रति क्ंिवटल के मान से क्रय की जाएगी।उड़द खरीदी कार्य बासौदा की कृषि उपज मंडी में ही होगा। उडद का समर्थन मूल्य पांच हजार रूपए प्रति क्ंिवटल घोषित किया गया है इसी प्रकार अरहर (तूअर) खरीदी कार्य शमशाबाद कृषि उपज मंडी में किया जाएगा। अरहर का समर्थन मूल्य पांच हजार पचास रूपए है।


तहसीलदार द्वारा रोक लगाई गई

श्री गोपाल कृष्ण मंदिर नाना का बाग विदिशा के भू-स्वामी कलेक्टर दर्ज होने के बावजूद मंदिर के पुजारी शंकरदास त्यागी द्वारा भूमि अनुबंध पत्रों एवं विक्रय पत्रों के माध्यम से हस्तातंरित की जा रही है कि शिकायत आवेदक चन्द्रप्रकाश एलिया द्वारा की गई थी। उक्त  प्रकरण विदिशा तहसीलदार के न्यायालय में विचाराधीन होने पर तहसीलदार द्वारा की गई सुनवाई के उपरांत श्री गोपाल कृष्ण मंदिर की भूमि के विक्रय अनुबंध पत्रों पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने के आदेश जारी कर दिए है साथ ही हल्का पटवारी को अग्रिम आदेश तक कम्प्यूटर खसरा में अस्तांतरणीय दर्ज करने के आदेश दिए है। ज्ञातव्य हो कि विदिशा तहसील के ग्राम कस्बा विदिशा स्थित भूमि सर्वे नम्बर 2637 रकवा 0.397 हेक्टेयर, 2639 रकवा 0.167 हेक्टेयर एवं 2640 रकवा 0.324 हेक्टेयर राजस्व अभिलेख में मंदिर श्री राधाकृष्ण जी नाना का बाग व्यवस्थापक कलेक्टर विदिशा भूमि स्वामी दर्ज है। इस प्रकार वादग्रस्त भूमि सार्वजनिक होकर शासकीय श्रेणी की है। प्रश्नाधीन भूमि को मंदिर के पुजारी शंकरदास त्यागी द्वारा छोटे-छोटे भूखण्डों में अवैध रूप से अनुबंध/विक्रय पत्र निष्पादित किए जाने की शिकायत पर जांच प्रकरण तहसीलदार के न्यायालय में विचाराधीन है। अतः प्रश्नाधीन भूमियों को भू-खण्डो का अनुबंध/विक्रय पत्र निष्पादित किए जाने में तत्काल प्रभाव से रोक लगाई गई है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...