विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 30 जून

तैयारियों संबंधी बैठक आज

vidisha news
मिशन इन्द्रधनुष का चतुर्थ चरण की तैयारियों एवं अर्वन टाॅस्क फोर्स समिति की बैठक एक जुलाई को आयोजित की गई है। कलेक्टर श्री अनिल सुचारी की अध्यक्षता में यह बैठक कलेक्टेªट के सभाकक्ष में प्रातः 11 बजे से प्रारंभ होगी। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ बीएल आर्य ने बताया कि बैठक में मिशन इन्द्रधनुष हेतु सूक्ष्म कार्ययोजना, नियमित टीकाकरण, शहरी टीकाकरण की कार्ययोजना के साथ-साथ दस्तक अभियान की प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की जाएगी। ज्ञातव्य हो कि जिले में मिशन इन्द्रधनुष का चतुर्थ चरण सात जुलाई से 14 जुलाई तक क्रियान्वित किया जाएगा। वही भारत शासन के निर्देशानुसार अर्वन टाॅस्क फोर्स की बैठक का आयोजन उद्वेश्यों की प्राप्ति हेतु किया गया है।


समाधान आॅन लाइन चार को

समाधान आॅन लाइन वीडियो कांफ्रेसिंग का आयोजन चार जुलाई को किया गया है कि जानकारी देते हुए अपर कलेक्टर ने बताया कि समाधान आॅन लाइन में इस बार जिन विषयों को शामिल किया गया है उनमें मीसाबंदी पेंशन का भुगतान, मृत्यु उपरांत आर्थिक सहायता, मुआवजा का भुगतान, कृषि पंप से दुर्घटनाग्रस्त होने के उपरांत दी जाने वाली आर्थिक सहायता, नलकूप खनन की राशि का भुगतान, विद्यार्थियों को दिए जाने वाले आवास भत्ते की राशि का भुगतान, मजदूरी का भुगतान, इन्दिरा आवास, प्रधानमंत्री आवास योजना, कपिलधारा कूप निर्माण की राशि का भुगतान इत्यादि शामिल है। अपर कलेक्टर श्री वर्मा ने संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि क्रियान्वित विभागीय योजनाएं जिनकी समीक्षा समाधान आॅन लाइन के माध्यम से की जाएगी। उनकी जानकारी तीन जुलाई तक जिला कार्यालय को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें और समाधान आॅन लाइन दिवस को समुचित जानकारियों सहित व्हीसी में उपस्थित हों।

मानसून अवधि में रेत उत्खनन ना करें

भौमिक तथा खनिकर्म के संचालक द्वारा जारी आदेश का हवाला देेते हुए जिला खनिज अधिकारी श्री रमेश कुमार पटेल ने बताया कि मानसून अवधि में रेत का उत्खनन कार्य बंद रखने के आदेश संबंधितांे को जारी किए गए थे। मौसम विज्ञान विभाग के द्वारा प्रदेश में मानसून की अवधि बताई गई है। तदानुसार विदिशा जिले में स्थित सभी रेत खदानों में उत्खनन कार्य तीस जून से लेकर एक अक्टूबर तक प्रतिबंधित किया गया है। 

खनिज स्टाॅक का परिवहन भी ई-टीपी के माध्यम से

जिले के जिन ठेकेदार द्वारा खनिजों का स्टाॅक किया गया है उन सभी के लिए खनिजों के नवीन परिवहन के लिए भी ई-टीपी की अनिवार्यतः की गई है। समस्त स्टाॅकिस्ट को ई-टीपी के माध्यम से ही खनिज परिवहन करें के निर्देश जारी किए गए है कि जानकारी देते हुए जिला खनिज अधिकारी श्री रमेश कुमार पटेल ने बताया कि बिना ई-टीपी के क्रय-विक्रय करते पाए जाने पर संबंधित खनिज स्टाॅकिस्ट के विरूद्व नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। खनिज स्टाॅकिस्ट से श्री पटेल ने कहा है कि सात दिवस के भीतर खनिज कार्यालय में उपस्थित होकर अपना पंजीयन करा सकते है इस हेतु स्टाॅकिस्ट अपना मूल पेन कार्ड, बैंक की जानकारी, ई-मेल एडेªस आदि के साथ उपस्थित होना सुनिश्चित करें ताकि संबंधितों को समय सीमा में नवीन परिवहन की ई-टीपी कार्यवाही सम्पादित की जा सकें। 

मतदाता सूची में नाम जोड़ने का विशेष अभियान आज से

जिले मेे छूटे हुए युवा मतदाता का नाम मतदाता सूची में जोड़ने के लिए विशेष अभियान एक जुलाई से जिले में क्रियान्वित होने लगेगा। अभियान की जानकारी देते हुए कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अनिल सुचारी ने बताया कि जुलाई माह तक अभियान का श्रृंखलाबद्व क्रियान्वयन किया जाएगा। जिसका मुख्य उद्वेश्य 18 से 21 वर्ष आयु का कोई भी युवा वोटर का नाम मतदाता सूची में दर्ज करने से छूट ना पाए। उक्त अभियान जिले की पांचो विधानसभाओं में क्रियान्वित किया जाएगा। मतदाताओं की सहायता के लिए जिला मुख्यालय पर काॅल सेन्टर भी बनाया गया है जिसका दूरभाष क्रमांक 07592-233302 है। ऐसे युवा जो 18 से 21 वर्ष के मतदाताओं के नाम मतदाता सूची मंे जोड़़ने है अथवा छूटे हुए युवा मतदाता अपने क्षेत्र के बीएलओ अथवा तहसील कार्यालय से फार्म नं-6 प्राप्त कर पूर्ति उपरंात जमा करें ताकि उनका नाम मतदाता सूची में अंकित हो सकें। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने जिले के समस्त गणमान्य नागरिकों एवं जनप्रतिनिधियों से आग्रह किया है कि वे युवा मतदाताओं को जागरूक करने में अपना सहयोग दें। 

राज्यमंत्री श्री मीणा द्वारा जनसुनवाई आज

उद्यानिकी तथा खाद्य प्रसंस्करण (स्वतंत्र प्रभार) वन, राज्यमंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा के द्वारा शमशाबाद विधानसभा क्षेत्र की दोनो तहसीलो में प्रत्येक शनिवार को जनसुनवाई के माध्यम से आमजनों की समस्याओं से अवगत होकर उनका निराकरण किया जा रहा है। राज्यमंत्री श्री मीणा के द्वारा शनिवार की प्रातः 11 बजे से नटेरन जनपद पंचायत के सभागार कक्ष में तथा दोपहर दो बजे से शमशाबाद के फाॅरेस्ट रेस्ट हाउस में जनसुनवाई आहूत की गई है। 

जिले में अब तक 167.1 मिमी औसत वर्षा दर्ज हुई

जिले के तहसील कार्यालयों में स्थापित वर्षामापी यंत्रो पर शुक्रवार की प्रातः आठ बजे दर्ज की गई वर्षा की जानकारी देते हुए अधीक्षक भू-अभिलेख श्रीमती सविता पटेल ने बताया कि शुक्रवार को जिले में 25.7 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है जबकि एक जून से आज दिनांक 30 जून तक 167.1 मिमी औसत वर्षा हो चुकी है। उक्त अवधि में गतवर्ष 125.4 मिमी औसत वर्षा हुई थी। जबकि जिले की सामान्य वर्षा 1075.2 मिमी है।शुक्रवार की प्रातः जिन तहसीलों में वर्षा दर्ज की गई है तदानुसार विदिशा में 26 मिमी, बासौदा में 25 मिमी, कुरवाई 27.6 मिमी, लटेरी मंे तीन मिमी, ग्यारसपुर में 10 मिमी, गुलाबगंज में 37 मिमी और नटेरन में 77 मिमी वर्षा दर्ज की गई है। इसके अलावा सिरोंज तहसील में वर्षा नगण्य रही। अब तक तहसीलवार दर्ज की गई एकजाई वर्षा की जानकारी इस प्रकार से है। विदिशा में 194.7 मिमी, बासौदा में 138.4 मिमी, कुरवाई 204.7 मिमी, सिरोंज में 145 मिमी, लटेरी मंे 101.3 मिमी, ग्यारसपुर में 119.3 मिमी, गुलाबगंज में 212 मिमी और नटेरन में 221 मिमी वर्षा दर्ज की जा चुकी है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...