आईटी क्षेत्र में 1000 करोड़ का होगा निवेश : मुख्य सचिव

1000-crore-investment-in-it-jharkhand-cs
रांची 29 जुलाई, झारखंड की मुख्य सचिव राजबाला वर्मा ने कहा है कि करीब एक हजार करोड़ रूपये के निवेश के साथ प्रदेश सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) हब के रूप में स्थापित होने की दिशा में तेजी अपने कदम बढ़ा रहा है। श्रीमती वर्मा ने आज नामकोम में नवनिर्मित सहकारिता भवन का जायजा लेने के दौरान नौ आईटी कंपनियों के प्रतिनिधियों से भी मुलाकात के बाद कहा कि देश की नौ आईटी कंपनियां राज्य में करीब 1000 करोड़ रुपये का निवेश करने जा रही हैं और आगामी सितंबर माह में सरकार उन्हें नामकोम के नवनिर्मित सहकारिता भवन में दफ्तर के लिए जगह उपलब्ध करा देगी। प्रदेश में इन कंपनियों के कार्यरत होने से कृषि, एवं तकनीक के क्षेत्र में राज्य के विकास को गति मिलेगी। सरकार की योजनाओं को आईटी टेक्नोलोजी से जोड़ने की दिशा में यह एक महत्वपूर्ण कदम होगा।  मुख्य सचिव ने कहा कि झारखंड में औद्योगिक निवेश के लिये बेहतर माहोल बन रहा है, निवेशकों ने भी राज्य की औद्योगिक नीति को सराहा है। सुगमता व्यापार सूचकांक में भी राज्य में बेहतर काम हो रहा है। मोमेंटम झारखंड के आयोजन के बाद अब तक हजारों करोड़ रुपये के निवेश की दिशा में कई रोजगारपरक उद्योगों को जमीन पर उतारने की प्रक्रिया प्रारंभ की जा चुकी है। 



श्रीमती वर्मा ने आईटी एवं संबंधित विभाग को राज्य की जनता के हितों का ध्यान रखते हुए आईटी प्रक्षेत्र की कंपनियों को जरूरत के अनुसार नवनिर्मित सहकारिता भवन में लगह उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों को यह भी निर्देश दिया कि राज्य में निवेश करने वाली सभी आईटी कंपनियों के साथ बैठक कर उन्हें हर जरूरी सुविधा उपलब्ध करायें। राजधानी रांची से लगे नामकोम में करीब 1.65 एकड़ में बने पांच मंजिला सहकारिता भवन में कुल 26 कमरे हैं तथा प्रत्येक तल पर एक कांफ्रेंस हॉल का निर्माण कराया गया है। परिभ्रमण के दौरान मुख्य रूप से खान एवं उद्योग सचिव सुनील कुमार वर्णवाल, आईटी सचिव सतेन्द्र सिंह, कृषि एवं सहकारिता सचिव पूजा सिंघल, भूमि सुधार एवं राजस्व विभाग निदेशक के. निवासन, कई बड़ी आईटी कंपनियों के प्रतिनिधि उपस्थित थे। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...