मधुबनी : जीएसटी नई आर्थिक आज़ादी है।

GST-new-economical-freedom
अंधराठाढ़ी/मधुबनी (मोo आलम अंसारी) आर्थिक मोर्चे पर सरकार ने जनहित में एक कारगर कडैम उठाया है। इसे संघीय प्रणाली एक देश एक टैक्स की प्रणाली को आकार लेने में मदद मिलेगी। इसका विरोध अतार्किक अव्यवहारिक और सिर्फ विरोध के लिए विरोध करने जैसा है। ये बातें कही प्रखंड भाजपा के बरिष्ठ नेता संजय चौधरी ने। श्री चौधरी ने कहा कि वर्षो की लंबी मांग, बहस, अध्यन, विचार विनिमय समीक्षा वैधानिक प्रकिया के अनुरूप ही इसे लागू किया गया है। श्री चौधरी के अनुसार पुरानी प्रणाली भ्रष्टाचार और कर चोरी करने वालों की पक्षधर थी। ये गरीबो की पक्षधर, महंगाई कम करने वाली और कालांतर में देश को आगे ले जाने वाली व्यवस्था है। श्री चौधरी ने विरोधियों से भी जीएसटी के पक्ष में जान जागरूकता बढ़ाने की अपील की है। सरकार का एकमात्र लक्ष्य आम जनजीवन को आसान और सुविधायुक्त बनाना होना चाहिए। इस लिहाज से केंद्र सरकार ने बतौर जीएसटी लोगों को एक शानदार उपहार दिया है। इसमें मीनमेख निकलना केवल समय को जाया करना है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...