बिहार विधानसभा का विशेष सत्र कल

assembly-spacial-session-tomorow
पटना 27 जुलाई, बिहार में नवगठित सरकार के विश्वास मत हासिल करने के लिए 28 जुलाई को विधानसभा का विशेष सत्र आहूत किया गया है। विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने आज यहां आयोजित संवाददाता सम्मेलन में बताया कि राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी ने राज्य की नवगठित सरकार को विश्वास मत हासिल करने के लिए दो दिन का समय दिया है। इस पर सरकार ने कल ही विश्वास मत प्रस्ताव पेश करने का आग्रह किया है, जिसकी सूचना विधानसभा सचिवालय को प्राप्त हो गई है। इसके मद्देनजर 28 जुलाई को केवल एक दिन के लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया गया है। उन्होंने बताया कि सदन की कार्यवाही दिन के 11 बजे शुरू होगी। श्री चौधरी ने बताया कि पहले विधानमंडल का मॉनसून सत्र 28 जुलाई से 03 अगस्त तक के लिए आहूत किया गया था। लेकिन, राज्य में तेजी से बदले राजनीतिक घटनाक्रम के कारण श्री नीतीश कुमार ने इस्तीफे के बाद फिर से नई सरकार की जिम्मेवारी संभाली है। ऐसी स्थिति में बहुमत साबित करने के संबंध में राज्यपाल के आदेश पर अमल करने के लिए अब विधानसभा का विशेष सत्र केवल एक दिन के लिए 28 जुलाई को आहूत किया गया है। विधानसभा अध्यक्ष ने मीडिया में विशेष सत्र की तिथि 28 जुलाई के स्थान पर 29 जुलाई लिखने या दिखाने पर कड़ी आपत्ति जताते हुये कहा, “मेरी ओर से सूचना दिये बगैर कुछ मीडिया संस्थानों ने विशेष सत्र की तिथि गलत बता दी है। इससे विधानमंडल के सदस्यों के बीच भ्रम की स्थिति उत्पन्न हो गई है, जो उचित नहीं है।” उन्होंने कहा कि उन्हें विधानमंडल की कार्यवाही सफलतापूर्वक संपन्न करने के लिए मीडिया से सहयोग की अपेक्षा है। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...