बिहार : कॉल सेंटर से ठगी करने वाले तीन हाईटेक जालसाज गिरफ्तार

call-center-hitech-fraud-arrested-in-patna
पटना 04 जुलाई, बिहार में राजधानी पटना से संचालित एक फर्जी अंतरराष्ट्रीय कॉल सेंटर के माध्यम से लोगों को ठगी का शिकार बनाने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ कर पुलिस ने तीन हाईटेक जालसाजों को गिरफ्तार किया है।  वरीय पुलिस अधीक्षक मनु महाराज ने आज यहां बताया कि सूचना मिली थी कि राजधानी पटना के पाटलिपुत्रा इलाके में एक कॉल सेंटर बनाकर लोगों को ठगी का शिकार बनाया जा रहा था। गिरोह के हाईटेक जालसाज एक वेबसाइट से डाटा लेकर जन्मतिथि समेत अन्य तरह की डेटा में गड़बड़ी बताकर ठीक करने के बहाने अमेरिका में रह रहे प्रवासी भारतीयों को झांसे में लेकर छह सौ डॉलर से लेकर एक हजार डॉलर (करीब 65,000 रुपये) की मांग करते थे। उन्होंने बताया कि जालसाज वेस्टर्न यूनियन के माध्यम से ट्रांजेक्शन करते थे। श्री महाराज ने बताया कि इसके बाद अपर पुलिस अधीक्षक (अभियान) राकेश कुमार दूबे के नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन किया गया जिनमें कई तकनीकी जानकारी रखने वाले अधिकारियों को भी शामिल किया गया। विशेष टीम ने गोपनीय तरीके से गिरोह की जानकारी जुटानी शुरु की। इसी दौरान पता चला कि पाटलिपुत्रा थाना के चन्द्रावती इन्कलेव में ऑल वायस टेक कम्युनिकेशन प्राईवेट लिमिटेड के मालिक अशीष कुमार इस कॉल सेंटर को संचालित कर रहा है। उन्होंने बताया कि विशेष टीम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए कॉल सेंटर पर छापेमारी कर आशीष गुप्ता को शराब का सेवन करते हुए गिरफ्तार कर लिया। तलाशी के दौरान कॉल सेंटर से 11 कम्प्यूटर समेत अन्य उपकरण बरामद किये गये हैं। वरीय पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पूछताछ के क्रम में आशीष ने पूरे मामले में अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुए कहा कि इस सेंटर के माध्यम से डेटा वेंडरों से संपर्क कर वह प्रवासी भारतीयों को कॉल कर खुद को आव्रजन विभाग का अधिकारी बताता था। इस दौरान लोगों को उनके यात्रा के दौरान जन्मतिथि समेत अन्य तरह की डेटा में गड़बड़ी होने का धौंस दिखाकर उसे ठीक करने के एवज में डॉलर की मांग की जाती थी। श्री महाराज ने बताया कि आशीष की निशानदेही पर एक अन्य कॉल सेंटर में छापेमारी कर प्रबंधक रवीन्द्र कुमार गुप्ता को गिरफ्तार किया गया है। इस दौरान कॉल सेंटर से 23 कंप्यूटर के अलावा अन्य सामान जब्त किये गये हैं। पूछताछ के क्रम में मिली जानकारी के बाद गिरोह में शामिल युवक विक्रांत को गिरफ्तार किया गया है। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...