पटना समेत लालू के 12 ठिकानों पर सीबीआई का छापा

cbi-raid-lalu-residence
पटना 07 जुलाई, बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल  (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के पटना , रांची , दिल्ली और पुरी के  12 ठिकानों पर रेलवे टेंडर में हुयी गड़बड़ी के मामले में आज केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की अलग -अलग टीम एक साथ छापेमारी कर रही है ।  पटना के दस सर्कुलर रोड स्थित राबड़ी देवी के सरकारी आवास पर सुबह करीब आठ बजे सीबीआई की टीम छापेमारी करने पहुंची । हालांकि  छापेमारी से पूर्व सीबीआई के अधिकारियों ने कुछ भी बताने से इंकार कर  दिया । छापेमारी के दौरान श्रीमती राबड़ी देवी के आवास पर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती की गयी है और गेट के अंदर किसी भी नेताओं या आम लोगों को प्रवेश करने की इजाजत नहीं दी जा रही है । दस सर्कुलर रोड जाने वाले सभी रास्तों को भी सील कर दिया गया है । मामला रेल मंत्रालय से जुड़ा वर्ष 2006 का है जब श्री यादव रेल मंत्री थे । तत्कालीन रेलमंत्री श्री यादव पर झारखंड के रांची और ओडीशा के पुरी स्थित रेलवे के दो होटलों के बदले हर्ष कोचर से 200 करोड़ की बेनामी जमीन पटना में डिलाइट मार्केटिंग कम्पनी के नाम से लेने का आरोप भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधानमंडल दल के नेता सुशील कुमार मोदी ने लगाया था । टेंडर में कोचर को रांची और पुरी में रेलवे के होटल दिये जाने के एवज में जमीन देने का मामला प्रकाश में आने के बाद सीबीआई ने मामले की जांच शुरु की । जांच के दौरान कई मामलों का पता लगाया जिसके बाद यह छापेमारी की जा रही है।



सीबीआई की टीम रांची के बीएनआर चाणक्या होटल में भी छापेमारी कर कागजातों की जांच कर रही है । पुरी में भी रेलवे से जुड़े होटल पर ब्यूरो की टीम छापेमारी कर रही है । इसके अलावा सीबीआई की टीम श्री यादव के दिल्ली स्थित ठिकाने पर भी छापेमारी कर रही है । राजद के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री शिवानंद तिवारी संजय गांधी जैविक उद्यान में टहलने के बाद जब दस सर्कुलर रोड पहुंचे तब उन्होंने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि जिस तरह श्री यादव केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार को ललकार रहे थे उससे लगता था कि यह होना ही था । उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार सीबीआई समेत अन्य एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है । श्री तिवारी ने कहा कि श्री यादव के खिलाफ इस तरह के छापे से कोई असर पड़ने वाला नहीं है । उन्होंने कहा कि इस तरह की जितनी कार्रवाई उनके खिलाफ होगी वह उतने ही मजबूत बनकर उभरेंगे । वहीं दूसरी ओर भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री नंद किशोर यादव ने कहा कि जो जैसा करेगा उसे वैसा भरना पड़ेगा । उन्होंने कहा कि उनके उपर करोड़ों की अवैध संपत्ति अर्जित करने और रेल मंत्री रहते हुए कई गंभीर आरोप लगे हैं। इससे पूर्व पांच जुलाई को राजद के 21 वें स्थापना दिवस के मौके पर श्री यादव ने पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं से कहा था कि पटना के गांधी मैदान में आयोजित होने वाली ..भाजपा भगाओ देश बचाओ रैली.. से पूर्व उन्हें जेल भी जाना पड़ सकता है और इसके लिए सभी कार्यकर्ताओं को लालू बनना होगा। उन्होंने केन्द्र सरकार पर देश में अघोषित आपातकाल थोपने का भी आरोप लगाया था। गौरतलब है कि इससे पूर्व आयकर विभाग ने 16 मई को बेनामी सम्पत्ति और आय से अधिक सम्पत्ति अर्जित करने के मामले में दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के गुरुग्राम में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो श्री यादव और उनके निकटस्थों के 20 ठिकानों पर छापेमारी की थी ।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...