केंद्र राज्य के खिलाफ साजिश कर रहा है : ममता बनर्जी

center-conspiracy-against-state-mamta-banerjee
प बंगाल:, 10 जुलाई, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र के खिलाफ अपना हमला जारी रखते हुए उसपर राज्य के खिलाफ साजिश रचने और किसी भी मुद्दे पर उसके साथ सहयोग नहीं करने का आज आरोप लगाया। बनर्जी ने यहां एक कार्यक््रम में कहा, केंद्र और राज्य सरकारों दोनों को जनता ने चुना है। इसलिये क्यों केंद्र सरकार राज्य सरकार के खिलाफ साजिश कर रही है। क्यों वे राज्य के खिलाफ झूठ फैला रहे हैं। मैं इसका जवाब चाहती हूं। बनर्जी ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय सीमा की केंद्र सरकार देखभाल करती है, लेकिन इसकी बजाय केंद्र द्वार खोल रहा है और विदेशियों को देश में प्रवेश करने की अनुमति दे रहा है। वे :केंद्र: साजिश कर रहे हैं और हिंसा शुरू कर रहे हैं। उन्होंने दावा किया, आपने :केंद्र: सीमा को खोल दिया और उन्हें राज्य में प्रवेश करने दिया और अब आप राज्य से रिपोर्ट सौंपने को कह रहे हैं। सिर्फ इसलिये कि हम प्रशासन चला रहे हैं, लोग राज्य में शांति से रह सकते हैं। आरोपों का खंडन करते हुए भाजपा ने कहा कि इस तरह की शिकायत किसी अन्य सीमावर्ती राज्य ने नहीं की। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि देश के अन्य हिस्सों में भी बीएसएफ सीमाओं पर तैनात है और किसी भी राज्य सरकार ने इस तरह के आरोप नहीं लगाए हैं। उन्होंने आरोप लगाया तृणमूल सरकार को सीमा चौकियों के निर्माण के लिये जमीन देनी है। उन्होंने यह भी दावा किया कि उनके राज्य को केंद्र से किसी भी मामले में कोई सहयोग नहीं मिल रहा है। उन्होंने कहा, मुझे यह कहते हुए बहुत दुख है कि उनकी तरफ से :केंद्र की तरफ से: असहयोग है। अदालत के आदेश के बावजूद दाजर्ििलंग में किसी भी बल को तैनात नहीं किया गया है। उन्होंने इस बात को दोहराया कि पश्चिम बंगाल ने कभी लोगों को बांटने का समर्थन नहीं किया है। उन्होंने केंद्र सरकार पर लोगों को बांटने का आरोप लगाया। बनर्जी ने यह भी कहा कि पश्चिम बंगाल को बांटने की राजनीति की जा रही है और भाजपा इसके पीछे है। उन्होंने कहा, पश्चिम बंगाल में विभाजनकारी राजनीति करना आसान काम नहीं होगा। हमारा इतिहास रहा है। ऐसे लोग हैं जो राज्य के बाहर से आ रहे हैं और यहां दंगा भड़काने का प्रयास कर रहे हैं।  उन्होंने कहा कि भाजपा झूठ फैलाने के लिये सोशल नेटवर्कगि वेबसाइटों का इस्तेमाल कर रही है। वह पश्चिम बंगाल में दंगा फैलाने के लिये फर्जी तस्वीरों का इस्तेमाल कर रही है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...