दुमका : चप्पे चप्पे पर तैनात थे सुरक्षाकर्मी, डीसी ने लिया विधि व्यवस्था का जायजा

dc-inspect-security-basukinath-baidyanath-shrawan-mela
वासुकिनाथ धाम से अमरेन्द्र सुमन, सावन की तीसरी सोमवारी को श्रद्धालुओं का जन सैलाब वासुकिनाथ धाम में देखने को मिला। पूरे कांवरिया रुट लाइन के साथ-साथ पूरा मेला क्षेत्र श्रद्धालुओं से भरा दिखाई दे रहा था। इस जन सैलाब को सुगमता पूर्वक जर्लापण कराने के लिये सभी सुरक्षाकर्मी देर रात्रि से ही अपने कर्तव्य स्थल पर दिखे। जिला प्रशासन सभी श्रद्धालुओं को हर सुविधा दे रही है। पूरे कांवरिया रुट लाइन में सुरक्षा कर्मी की नियुक्ति की गयी है। ताकि श्रद्धालुओं को किसी प्रकार परेषानी न हो। दुमका के उपायुक्त मुकेष कुमार पूरे ऐक्षन मोड मे दिखे। देर रात्रि से ही उपायुक्त वासुकिनाथ धाम पहँुचकर विधि व्यवस्था का जायजा लेते नजर आये। उपायुक्त ने मंदिर प्रांगण पहँुचकर श्रद्धालुओं की कतार को देखा एवं मेला प्रांगण में प्रतिनियुक्त अधिकारियों को निदेष दिया कि श्रद्धालुओं का पूरी ख्याल रखें। उन्होंने कहा कि इस बात का ध्यान रखें कि महिला एवं पुरुष लाइन में किसी भी प्रकार की घुसपैठ न हो। उपायुक्त ने षिवगंगा पहँुचकर प्रतिनियुक्त अधिकारी को निदेष दिया कि अपनी ड्यूटी पूरी होने के बाद तथा सहयोगी के आ जाने के बाद ही अपने कर्तव्य स्थल को छोड़े। उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं को किसी भी प्रकार कि परेषानी न हो इसका ख्याल रखें यादि कोई विपरीत स्थिति दिखे तो तुरंत इसकी सूचना अपने वरीय अधिकारी को दें। उन्होंने कहा कि सभी प्रतिनियुक्त अधिकारी दण्डाधिकारी एवं सुरक्षा कर्मी किसी भी परिस्थिति में अपने कर्तव्य स्थल से अनुपस्थित न रहें। उन्होंने षिवगंगा के चारों ओर प्रतिनियुक्त सुरक्षा कर्मीयों को निदेष दिया कि इस बात का ध्यान रखें किसी भी परिस्थिति में श्रद्धालु दौड़कर मंदिर की ओर न जायें। श्रद्धालुओं की कतार देर रात से ही पंच भैया टोला तक पहँुच चुकी थी। सभी सुरक्षा कर्मी कावंरियों की कतार के अंतिम छोर तक खड़े दिख रहे थे। उपायुक्त मुकेष कुमर भी श्रद्धालुओं की कतार को देखने पंचभैया टोला पहुँचे एवं पूरे रुट लाइन में प्रतिनियुक्त सभी सुरक्षा कर्मीयों को निदेष दिया कि वे पूरे इमानदारी से श्रावणी मेला के बचे दिनों में भी श्रद्धालुओं की सेवा करें। उपायुक्त ने पंचभैया टोला पहँुचकर प्रतिनियुक्त अधिकारी को निदेष दिया कि इस बात का ध्यान रखा जाय कि किसी भी प्रकार की वाहन विपरित दिषा से न जा सके। उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं पर नजर रखें। किसी भी प्रकार की घुसपैठ न हो तथा कोई भी दौड़ कर न जाये। मंदिर के सिंह द्वार पहँुचकर उपायुक्त ने सीसीटीवी फुटेज के माध्यम से पूरे मेला क्षेत्र पर अपनी नजर बनाये हुए थे।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...