सरकार के दबाव में लोकसभा में चल रहा है भेदभाव : कांग्रेस

discrimination-in-lok-sabha-under-govt-s-pressure-congress
नयी दिल्ली, 26 जुलाई, कांग्रेस ने आज आरोप लगाया कि सरकार लोकसभा की कार्यवाही में दखल दे रही है और उसीके इशारे पर सदन में दोहरे मापदंड अपनाए जा रहे हैं, लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने यहां संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया कि सदन की कार्यवाही में तानाशाही तरीका अपनाया जा रहा है और विपक्ष के सदस्यों के साथ भेदभाव किया जा रहा है। विपक्षी दलों के सदस्यों को सदन में अपनी बात रखने के लिए अपेक्षाकृत कम समय दिया जाता है जबकि सत्ता पक्ष के सदस्यों को पर्याप्त समय दिया जाता है। यह पूछने पर कि क्या वह अध्यक्ष सुमित्रा महाजन पर पक्षपात करने का आरोप लगा रहे हैं, श्री खड़गे ने कहा कि वह श्रीमती महाजन का सम्मान करते हैं। वह बहुत अनुभवी हैं और वह भेदभाव नहीं करतीं लेकिन उन पर पक्षपात करने के लिए दबाव डाला जाता है। दबाव डालने का यह दृश्य खुद उन्होंने देखा है और उसी के आधार पर दबाव की रणनीति अपनाए जाने का आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि भेदभाव का सबसे बड़ा उदाहरण सबके सामने है। आम आदमी पार्टी के सदस्य भगवंत मान को संसद भवन का वीडियो बनाने के लिए निलम्बित किया जाता है और भाजपा के अनुराग ठाकुर जब सदन की कार्यवाही का वीडिया बनाते हैं तो उन्हें भविष्य में ऐसा नहीं करने की चेतावनी दी जाती है। उन्होंने कहा कि एक ही सदन में एक ही तरह के अपराध के लिए दो नियम अपनाए जा रहे हैं और यह सब सत्ता पक्ष के इशारे पर हो रहा है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...