दुमका : कानूनी जागरुकता शिविर के माध्यम से दी जा रही निःशुल्क विधिक जानकारी

dumka-mela-sawan
दुमका , श्रावणी मेले के दौरान फौजदारी बाब के दरबार में हजारों हजार की संख्या में श्रद्धालुगण वासुकीनाथ धाम पहुँचते हैं। जलार्पण के बाद श्रद्धालुगण पूरे मेला क्षेत्र में घूमते नजर आते हैं। सूचना विभाग द्वारा लगाये गये प्रदर्शनी शिविर में झारखंड राज्य विधिक सेवा प्राधिकार के द्वारा निःशुल्क विधिक सहायता शिविर लगाया गया है। इस शिविर में श्रद्धालुओं को पम्पलेट एवं बुक के माध्यम से कानून की जानकारी दी जा रही है। शिविर में प्रतिनियुक्त कर्मी श्रद्धालुओं को कानून की जानकारी देते नजर आ रहे हैं। देश के अधिकांश लोग निर्धन एवं अशिक्षित हैं जो समाजिक न्याय से वंचित रह जाते हैं। न्यायालयों में मुकदमे की संख्या अधिक होने के कारण शीघ्र एवं सस्ता न्याय बहुत कठिन हो गया है। इन सबको ध्यान में रखते हुए लोगों को जागरुक करने हेतु यह षिविर लगाया गया है। इस षिविर के माध्यम से विधिक सेवा के अन्तर्गत प्रदान की जाने वाली सेवायें जैसे सरकारी खर्च, अभिलेखों कागजातों को तैयार करने का खर्च, गवाहों को आने-जाने का खर्च, मुकदमों से संबंधित अन्य जरुरी खर्च, साथ ही निःषुल्क विधिक सेवा पाने के हकदार तथा विधिक सेवा कहां से प्राप्त कर सकते हैं और प्राप्त करने का तरीका के बारे में बताया जा रहा है। षिविर में प्रतिनियुक्त कर्मियों ने बताया कि श्रावणी मेला के उद्घाटन से अब तक वासुकिनाथ धाम आने वाले श्रद्धालुओं के बीच कुल 202 कानून की किताबों को बांटा गया है तथा 1480 पम्पलेट का वितरण किया गया है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...