विंबलडन : मर्रे के बाद जोकोविच भी बाहर, फेडरर सेमीफाइनल में

fedrer-in-wimbeldon-semifinal
लंदन, 13 जुलाई, रोजर फेडरर ने घसियाले कोर्ट पर अपनी महारत के अनुरूप प्रदर्शन करते हुए कल रात यहां सीधे सेटों में जीत दर्ज करके विंबलडन टेनिस टूर्नामेंट के पुरूष एकल के सेमीफाइनल में जगह बनायी जबकि चोटों से जूझ रहे पहली वरीयता प्राप्त एंडी मर्रे के बाद दूसरे वरीय नोवाक जोकोविच भी क्वार्टर फाइनल से ही बाहर हो गये। स्विट्जरलैंड के स्टार खिलाड़ी फेडरर ने कनाडा के छठे वरीय मिलोस राओनिच को 6-4, 6-2, 7-6 (7/4) से हराकर 12वीं बार विंबलडन के सेमीफाइनल में प्रवेश किया। राफेल नडाल और मर्रे के बाद अब जोकोविच के भी बाहर होने से उनकी आठवां खिताब जीतने की संभावना भी प्रबल हो गयी है। आल इंग्लैंड क्लब पर अपना 100वां मैच खेल रहे 35 वर्षीय फेडरर विंबलडन के सेमीफाइनल में पहुंचने वाले ओपन युग के दूसरे सबसे उम्रदराज खिलाड़ी भी बन गये हैं। केन रोसवेल 1974 में 39 साल की उम्र में अंतिम चार में पहुंचे थे। शीर्ष चार खिलाड़ियों में से अब केवल फेडरर ही बचे हैं जो कि खिताब की दौड़ में बने हुए हैं। कूल्हे की चोट से परेशान ब्रिटिश खिलाड़ी और मौजूदा चैंपियन मर्रे को कल अमेरिका के 24वें वरीय सैम क्वेरी के हाथों पांच सेट तक चले मुकाबले में 3-6, 6-4, 6-7 (4/7), 6-1, 6-1 से हार झेलनी पड़ी जबकि तीन बार के चैंपियन सर्बियाई स्टार जोकोविच भी कोहनी की चोट के कारण चेक गणराज्य के 11वें वरीय टामस बर्डिच के खिलाफ क्वार्टर फाइनल मैच के बीच से हट गये। जोकोविच ने जब हटने का फैसला किया तब बर्डिच 7-6 (7/2), 2-0 से आगे चल रहे थे। इसका मतलब है कि अब शुक्रवार को होने वाले सेमीफाइनल में फेडरर का सामना बर्डिच से होगा। दूसरा सेमीफाइनल क्वेरी और क्रोएशिया के सातवें वरीय मारिन सिलिच के बीच होगा। सिलिच ने लक्समबर्ग के 16वें वरीय जाइल्स मुलेर को 3-6, 7-6 (8/6), 7-5, 5-7, 6-1 से पराजित किया। वह मुलेर ही थे जिन्होंने नडाल को हराकर अंतिम आठ में जगह बनायी थी।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...